श्रेयस अय्यर ने कहा- नंबर 4 अब मेरा हो गया

चौथे नंबर के बल्लेबाज की कमी के चलते टीम इंडिया (Team India) को वर्ल्ड कप 2019 में नुकसान झेलना पड़ा था.

कोलकाता. साल 2019 के वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में टीम इंडिया (Team India) को हार मिली जिसकी एक बड़ी वजह चौथे नंबर पर एक अच्छे और अनुभवी बल्लेबाज की भी कमी थी. टीम इंडिया ने 2019 से पहले चौथे नंबर पर ऋषभ पंत, विजय शंकर, दिनेश कार्तिक जैसे बल्लेबाजों को मौका दिया लेकिन वर्ल्ड कप तक टीम इंडिया चौथे नंबर का बल्लेबाज फिक्स नहीं कर पाई. हालांकि अब ये कमी पूरी हो गई है. मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) को भरोसा है कि पिछले एक साल में उनके लगातार अच्छे प्रदर्शन से सीमित ओवरों के क्रिकेट में भारतीय टीम में चौथे बल्लेबाजी क्रम को लेकर जारी बहस पर विराम लग गया है.

अय्यर ने कहा-अब चौथे नंबर पर ना हो चर्चा
अंबाती रायुडू, विजय शंकर, ऋषभ पंत और महेंद्र सिंह धोनी को चौथे नंबर पर आजमा रहे भारत ने विश्व कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ हार के बाद मुंबई के युवा बल्लेबाज अय्यर को वेस्टइंडीज दौरे पर वापसी का मौका दिया. अय्यर ने वेस्टइंडीज में प्रभावित किया लेकिन इस साल की शुरुआत में न्यूजीलैंड दौरे पर उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला में भारत की 0-3 की हार के दौरान एक शतक और दो अर्धशतक के साथ शीर्ष स्कोरर रहे.

इंडियन प्रीमियर लीग फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स की इंस्टाग्राम चैट में अय्यर (Shreyas Iyer)  ने कहा, ‘अगर आप भारत के लिए एक साल तक उस स्थान पर खेल रहे हो तो मतलब आपने अपनी जगह पक्की कर ली है. इसके बारे में और सवाल नहीं पूछे जाने चाहिए.’ अय्यर ने उस श्रृंखला में 217 रन बनाए थे जो तीन मैचों की द्विपक्षीय श्रृंखला पर चौथे नंबर पर खेलते हुए किसी भारतीय बल्लेबाज का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. उन्होंने कहा, ‘जब चौथे नंबर को लेकर बहस चल रही है तब चौथे नंबर पर प्रदर्शन करना और पूरी तरह से अपनी जगह पक्की कर लेना काफी संतोषजनक है.’किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी को तैयार

अय्यर (Shreyas Iyer)  ने हालांकि कहा कि वह टीम की जरूरत के अनुसार किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा, ‘लेकिन जब आप भारत के लिए खेल रहे हों तो आपको किसी भी क्रम को लेकर लचीलापन रखना होता है या जो भी टीम की जरूरत है. मुझे लगता है कि स्थिति के अनुसार मैं किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी कर सकता हूं. ‘ भारतीय कप्तान विराट कोहली को जब उनके शुरुआती दिनों की याद दिलाई गई थी तो उन्होंने अय्यर की तारीफ करते कहा था कि वह भी इसी तरह थे. अय्यर ने कहा, ‘जब वह (कोहली) टीम के अपने साथियों की तारीफ करता है तो यह शानदार अहसास होता है. वह सभी युवाओं के लिए आदर्श हैं.’



First published: June 8, 2020, 9:59 PM IST

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *