वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, बीजिंग
अपडेट किया गया बुध, 06 मई 2020 11:07 PM IST

ख़बर सुनता है

दुनिया में निश्चित रूप से कोरोना का कोहराम मचा हो लेकिन चीन अपनी आसमानी ताकत बढ़ाने और खुद को महाशक्तिशाली बनाने की मुहिम में पहले से भी बहुत तेजी से जुटा हुआ है। चीन के अंतरिक्ष स्टेशन कार्यक्रम के तहत लान्ग मार्च 5 बी के पहले फ्लाइट मिशन की कामयाबी से पूरा देश उत्सव मना रहा है, बधाई संदेश का तांता लगा है और चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने अपने अंतरिक्ष वैज्ञानिकों की हौसला अफजाई करते हुए उन्हें बधाई दी है।

सेंट्रल मिलिट्री कमीशन ने भी वेनचांग स्पेस लॉन्च सेंटर से अंतरिक्ष में सफलतापूर्वक भेजे गए चीन के इस नए जेनेरेशन मैन्ड स्पेसशिप की पूरी टीम को बधाई दी है और इसे बड़े कामयाबी ने बताया है। वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाते हुए कांग्रेस पार्टी में कहा गया है कि को विभाजित -19 जैसी वैश्विक महामारी के बीच जिस तरह पूरी टीम ने जुटकर अपने मिशन को प्रबंधित बनाया है उससे स्पेस स्टेशन बनाने की दिशा में चीन अपने तीसरे पायदान पर पहुंच गया है।

चीन पिछले पांच दशकों से अपने अंतरिक्ष कार्यक्रम के तहत लगातार नई उपलब्धियां हासिल कर रहा है। इस दौरान उन्होंने दस से ज्यादा तरीकों के करियर आभूषण बनाए हैं। लॉंग मार्च 5 बी के सफलतापूर्वक लॉन्च करने के बाद चीनी अंतरिक्ष कार्यक्रम एक नए मुकाम तक पहुंच गया है।

इससे पहले कोरोना संकट के बीच ही चीन की सैन्य ताकत में इजाफे से लेकर गुपचुपोम परीक्षण रने की खबरें भी आती हैं। जाहिर है इन खबरों से पूरी दुनिया के बीच चीन अपनी ताकत और धमक का इजहार करते हुए खुद को दुनिया की सबसे बड़ी महाशक्ति साबित करने में लगा है।

दुनिया में निश्चित रूप से कोरोना का कोहराम मचा हो लेकिन चीन अपनी आसमानी ताकत बढ़ाने और खुद को महाशक्तिशाली बनाने की मुहिम में पहले से भी बहुत तेजी से जुटा हुआ है। चीन के अंतरिक्ष स्टेशन कार्यक्रम के तहत लान्ग मार्च 5 बी के पहले फ्लाइट मिशन की कामयाबी से पूरा देश उत्सव मना रहा है, बधाई संदेश का तांता लगा है और चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने अपने अंतरिक्ष वैज्ञानिकों की हौसला अफजाई करते हुए उन्हें बधाई दी है।

सेंट्रल मिलिट्री कमीशन ने भी वेनचांग स्पेस लॉन्च सेंटर से अंतरिक्ष में सफलतापूर्वक भेजे गए चीन के इस नए जेनेरेशन मैन्ड स्पेसशिप की पूरी टीम को बधाई दी है और इसे बड़े कामयाबी ने बताया है। वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाते हुए कांग्रेस पार्टी में कहा गया है कि को विभाजित -19 जैसी वैश्विक महामारी के बीच जिस तरह पूरी टीम ने जुटकर अपने मिशन को प्रबंधित बनाया है उससे स्पेस स्टेशन बनाने की दिशा में चीन अपने तीसरे पायदान पर पहुंच गया है।

चीन पिछले पांच दशकों से अपने अंतरिक्ष कार्यक्रम के तहत लगातार नई उपलब्धियां हासिल कर रहा है। इस दौरान उन्होंने दस से ज्यादा तरीकों के करियर आभूषण बनाए हैं। लॉंग मार्च 5 बी के सफलतापूर्वक लॉन्च करने के बाद चीनी अंतरिक्ष कार्यक्रम एक नए मुकाम तक पहुंच गया है।

इससे पहले कोरोना संकट के बीच ही चीन की सैन्य ताकत में इजाफे से लेकर गुपचुपोम परीक्षण रने की खबरें भी आती हैं। जाहिर है इन खबरों से पूरी दुनिया के बीच चीन अपनी ताकत और धमक का इजहार करते हुए खुद को दुनिया की सबसे बड़ी महाशक्ति साबित करने में लगा है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *