• भारतीय टेस्ट टीम अक्टूबर 2016 से लगातार आईसीसी विश्व रैंकिंग में नंबर -1 बनी हुई थी
  • टीम इंडिया की रेटिंग 114 है, वह ऑस्ट्रेलिया से 2 और नोकिया से सिर्फ 1 पॉइंट पीछे है

दैनिक भास्कर

12 मई, 2020, 07:26 AM IST

पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर ने इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) के रैंकिंग सिस्टम पर सवाल उठाए हैं। हाल ही में जारी टेस्ट रैंकिंग में भारत को पछाड़कर ऑस्ट्रेलिया नंबर एक पर पहुंच गया है। जबकि भारतीय तीसरे नंबर पर फिसल गया है। गंभीर का कहना है कि हमारी टीम ने कुछ सालों में टेस्ट में काफी प्रभाव छोड़ा है। हमने घर से बाहर भी जीत हासिल की है। लेकिन उपमहाद्वीप में ऑस्ट्रेलिया का रिकॉर्ड निराशाजनक है।

भाजपा सांसद संत ने आईसीसी टेस्ट रैंकिंग के पॉइंट सिस्टम पर भी सवाल खड़े किए। गंभीर के मुताबिक घर और विदेश में मिली जीत पर बराबर अंक नहीं मिलना चाहिए। दोनों के लिए अलग नियम बनने चाहिए।

टेस्ट रैंकिंग में भारत टॉप पर
भारतीय टीम ने अक्टूबर 2016 के बाद पहली बार टेस्ट रैंकिंग में नंबर -1 का स्थान छोड़ दिया है। टीम अब 114 रेटिंग पॉइंट के साथ तीसरे स्थान पर पहुंच गई है। भारत अब ऑस्ट्रेलिया से 2 और न्यूजीलैंड से 1 अंक पीछे है। हालांकि, भारतीय टीम आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप में अब भी 360 पॉइंट के साथ शीर्ष पर बरकरार है। वहीं, ऑस्ट्रेलिया ने टी -20 में भी पहले स्थान पर कब्जा जमा लिया है। भारतीय टीम यहां भी तीसरे स्थान पर है।

नवीनतम रैंकिंग में 2016-17 के रिकॉर्ड हटाने से बहुत अधिक परिवर्तन हुए
आईसीसी ने कहा कि भारतीय टीम ने 2016-17 में रिकॉर्ड 12 टेस्ट में जीत दर्ज की थी और सिर्फ एक मुकाबला हारा था। विराट कोहली की कप्तानी में टीम ने इस दौरान ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ सभी 5 टेस्ट सीरीज जीती थी। इसी दौरान ऑस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका और भारत से सीरीज गंवाई थी। आईसीसी ने नए चार्ट में 2016-17 के रिकॉर्ड हटा दिए हैं, इस कारण रैंकिंग में ज्यादा बदलाव देखने को मिले। मई 2019 से अब तक के सभी 100 प्रतिशत और पिछले 2 साल के आधे टेस्ट को काउंट किया गया है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed