न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
अपडेटेड सन, 10 मई 2020 09:24 पूर्वाह्न IST

ख़बर सुनता है

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने रविवार को लॉकडाउन के बाद विनिर्माण उद्योगों को फिर से शुरू करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किया है। गौरतलब हो कि देश में कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन लागू किया गया है। इस कारण विनिर्माण उद्योगों पर भी रोक लग गई है।

मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गृह मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने विशाखापत्तनम घटना के मद्देनजर लॉकडाउन के बाद उद्योगों को फिर से खोलने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि उद्योग इकाइयों को फिर से शुरू करने के दौरान पहले सप्ताह को ट्रायल या परीक्षण अवधि के रूप में देखा जाना चाहिए। इस दौरान सभी प्रकार के सुरक्षा और प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा। कहा गया है कि कंपनियों को लॉकडाउन के बाद पहले ही सप्ताह से अधिक उत्पादन के लक्ष्यों को हासिल करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए।

एनडीएमए के निर्देश में कहा गया है कि परियोजना को हर दो-तीन घंटे में साफ-सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित करनी होगी, विशेष रूप से सार्वजनिक स्थानों पर यह प्रबंधन करना होगा।

गौरतलब है कि देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने 17 मई तक लॉकडाउन लागू किया है। माना जा रहा है कि लॉकडाउन के समाप्त होने के बाद कुछ उद्योगों को फिर से खोला जाएगा, जिससे गिर रही अर्थव्यवस्था को संभाला जा सकेगी।

बता दें कि देशभर में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़े के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 3320 नए मामले सामने आए हैं और 95 लोगों की मौत हुई है।

इसके बाद देशभर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 59,662 हो गई है, जिसमें 39,834 सक्रिय हैं, 17,847 लोग स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और 1981 लोगों की मौत हो गई है।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने रविवार को लॉकडाउन के बाद विनिर्माण उद्योगों को फिर से शुरू करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किया है। गौरतलब हो कि देश में कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन लागू किया गया है। इस कारण विनिर्माण उद्योगों पर भी रोक लग गई है।

मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गृह मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने विशाखापत्तनम घटना के मद्देनजर लॉकडाउन के बाद उद्योगों को फिर से खोलने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि उद्योग इकाइयों को फिर से शुरू करने के दौरान पहले सप्ताह को ट्रायल या परीक्षण अवधि के रूप में देखा जाना चाहिए। इस दौरान सभी प्रकार के सुरक्षा और प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा। कहा गया है कि कंपनियों को लॉकडाउन के बाद पहले ही सप्ताह से अधिक उत्पादन के लक्ष्यों को हासिल करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए।

एनडीएमए के निर्देश में कहा गया है कि परियोजना को हर दो-तीन घंटे में साफ-सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित करनी होगी, विशेष रूप से सार्वजनिक स्थानों पर यह प्रबंधन करना होगा।

गौरतलब है कि देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने 17 मई तक लॉकडाउन लागू किया है। माना जा रहा है कि लॉकडाउन के समाप्त होने के बाद कुछ उद्योगों को फिर से खोला जाएगा, जिससे गिर रही अर्थव्यवस्था को संभाला जा सकेगी।

बता दें कि देशभर में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़े के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 3320 नए मामले सामने आए हैं और 95 लोगों की मौत हुई है।

इसके बाद देशभर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 59,662 हो गई है, जिसमें 39,834 सक्रिय हैं, 17,847 लोग स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और 1981 लोगों की मौत हो गई है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *