कोरोनावायरस से बचाव का उपाय स्वास्थ्यकर्मी करते हैं
– फोटो: पीटीआई

ख़बर सुनता है

वुहान से शुरू हुए कोरोनावायरस के एक बार फिर से वापसी के स्पष्ट संकेत मिले हैं। कोरोना मुक्त हो चुके वुहान में 35 दिन बाद 6 नए मामले सामने आने के बाद एक स्थानीय अधिकारी को हटा दिया गया। दूसरी ओर रूस और उत्तर कोरिया से सटे जिलिन प्रांत के शुलान शहर में 17 लोगों के संघर्ष के जाने के बाद चीन सरकार ने इस शहर में यात्रा प्रतिबंध लागू कर दिए हैं। यह जानकारी कोरोना के क्लस्टर की रिपोर्ट सामने आने के बाद मिली है। चीन में कुलीनों की संख्या 82,918 हो गई है।

‘द गार्जियन के के मुताबिक शुलान के सभी मामले एक लांड्री से जुड़ने वाले हैं, जिन्हें एक 45 वर्षीय महिला गई थी। परिवर्तन मिले सभी लोग यहीं से कपड़े धुलवा रहे थे। इस महिला की कोई शादी हिस्ट्री नहीं है, उसके जरिये उसके पति, बहन और परिवार के कुछ अन्य सदस्यों को भी संक्रमण हो गया है। इस नए क्लस्टर के सामने आने के बाद शहर के सभी सार्वजनिक स्थलों को तुरंत बंद कर दिया गया है। चेंजिंग वर्किंग कमेटी के सचिव और सदस्य झांग युक्सिन को सैनमिनारेडेंसियल कम्युनिटी में मामला सामने आने के बाद पद से हटा दिया गया है। झांग पर आरोप है कि उन्होंने रिहायशी क्षेत्र में बेहतर प्रबंधन नहीं किया जिसके कारण दोबारा मामने सामने आए हैं। शहर को हाई रिस्क जोन घोषित कर दिया गया है। उधर, वुहान में 6 मामले असिम्टोमैटिक बताए गए हैं जिनमें लक्षण पता नहीं चलते हैं। एक महीने पूर्व ही यहां से लॉकडाउन रखा गया था। अब दोबारा शहर में स्वास्थ्य विभाग की सतर्कता बढ़ा दी गई है।

कई देशों के लॉकडाउन में ढील, रूस में 24 घंटे में 11 हजार से ज्यादा मामले

यूरोप के अधिकांश देशों में जोखिम के बीच लॉकडाउन से छूट मिलना शुरू हो गया है। हालांकि, इस ढील को लेकर लोग सहमे हुए हैं। फ्रांस-नीदरलैंड-स्विटजरलैंड में प्राइमरी स्कूल खुलने लगे हैं, बेल्जियम में कारोबार शुरू हो गया है, स्पेन में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ दुकानें खुल रही हैं। जबकि जर्मनी, ऑस्ट्रिया और इटली ने भी प्रतिबंध कम कर दिए हैं। नमार्क में सोमवार से शॉपिंग सेंटर खुल दिए गए हैं। जबकि पोलैंड में इस सप्ताह से होटल और रेस्तरां भी खुलने लगेंगे। कई देशों में लाइब्रेरी, हा सैलून, संग्रहालयों को खोलने की छूट भी दे दी गई है। वहीं, रूसी में 24 घंटे में ही संक्रमण के 11,000 से अधिक मामले सामने आए हैं।

तीन महीने बाद फिर से शंघाई माइक्रोलैंड गया
कोरोना के कारण तीन महीने से बंद शंघाई माइक्रलैंड पार्क को सोमवार से लोगों को फिर से खोलने दिया गया है। यहां वॉल्ट ऑप्टिकल ने विजिटरों और कर्मचारियों के लिए सामाजिक दूरी, कार्य और तापमान जांच सहित कई उपाय किए हैं। चीनी सरकार द्वारा प्रेषित किया गया है कि पार्क में वर्तमान में विजिटरों की संख्या 24,000 लोगों से नीचे या दैनिक क्षमता के 30 प्रतिशत के स्तर पर रखना है।

बांग्लादेश में सड़क पर जाम
ढाका में लॉकडाउन में ढील के दूसरे दिन सोमवार को सड़कों पर बड़ी संख्या में वाहन नजर आए। सड़कों में लोगों की जबरदस्त भीड़ देखी गई। कारों, ट्रक और ऑटो रिक्शा सड़कों पर किसी आम दिन से बहुत ज्यादा नजर आए।

कुवैत: भारतीय डॉक्टर की मौत

कुवैत में कोरोना से भारत के एक दंत चिकित्सक डॉ वासुदेव राव (54) की मौत हो गई है। वह देश के ऐसे दूसरे स्वास्थ्यकर्मी हैं जिनकी मृत्यु को विभाजित -19 से हुई है। मौत शनिवार को जाबेर अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई है।

नेपाल: विभिन्नताओं की संख्या 120 हुई
नेपाल में कोरोनावायरस के दस नए मामले सामने आए हैं जिनके बाद देश में संवेदनशीलों की कुल संख्या 120 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी। नेपाल उन राष्ट्रों में शामिल है जहां को विभाजित -19 के न्यूनतम मामले सामने आए हैं और इस बीमारी से एक भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई है।

अमेरिका: व्हाइट हाउस अधिकारी डरे, काम करने से कतरा रहा
अमेरिका एक तरफ घरों में रह रहे लोगों को बाहर निकालकर बाजार खोलने की तैयारी में है, वहीं व्हाइट हाउस के दो अधिकारियों के चेतन होने से इसके कर्मचारियों में दहशत है। लोग यहाँ काम पर आने से डर रहे हैं। व्हाइट हाउस में जिन अधिकारियों के कारण अन्य कर्मचारियों में डर है उनमें से एक राष्ट्रपति ट्रम्प की बेटी की निजी सहायक और दूसरी उपराष्ट्रपति माइक पेंस की राष्ट्रपति सचिव कैटी मिलर हैं। ये दोनों के संपर्क में कई अन्य अधिकारी भी आए हैं। वहीं सहायक के पॉजिटिव मिलने पर उपराष्ट्रपति माइक पेंस एकांतवास में चले गए हैं।

वुहान से शुरू हुए कोरोनावायरस के एक बार फिर से वापसी के स्पष्ट संकेत मिले हैं। कोरोना मुक्त हो चुके वुहान में 35 दिन बाद 6 नए मामले सामने आने के बाद एक स्थानीय अधिकारी को हटा दिया गया। दूसरी ओर रूस और उत्तर कोरिया से सटे जिलिन प्रांत के शुलान शहर में 17 लोगों के संघर्ष के जाने के बाद चीन सरकार ने इस शहर में यात्रा प्रतिबंध लागू कर दिए हैं। यह जानकारी कोरोना के क्लस्टर की रिपोर्ट सामने आने के बाद मिली है। चीन में कुलीनों की संख्या 82,918 हो गई है।

‘द गार्जियन के के मुताबिक शुलान के सभी मामले एक लांड्री से जुड़ने वाले हैं, जिन्हें एक 45 वर्षीय महिला गई थी। परिवर्तन मिले सभी लोग यहीं से कपड़े धुलवा रहे थे। इस महिला की कोई शादी हिस्ट्री नहीं है, उसके जरिये उसके पति, बहन और परिवार के कुछ अन्य सदस्यों को भी संक्रमण हो गया है। इस नए क्लस्टर के सामने आने के बाद शहर के सभी सार्वजनिक स्थलों को तुरंत बंद कर दिया गया है। चेंजिंग वर्किंग कमेटी के सचिव और सदस्य झांग युक्सिन को सैनमिनारेडेंसियल कम्युनिटी में मामला सामने आने के बाद पद से हटा दिया गया है। झांग पर आरोप है कि उन्होंने रिहायशी क्षेत्र में बेहतर प्रबंधन नहीं किया जिसके कारण दोबारा मामने सामने आए हैं। शहर को हाई रिस्क जोन घोषित कर दिया गया है। उधर, वुहान में 6 मामले असिम्टोमैटिक बताए गए हैं जिनमें लक्षण पता नहीं चलते हैं। एक महीने पूर्व ही यहां से लॉकडाउन रखा गया था। अब दोबारा शहर में स्वास्थ्य विभाग की सतर्कता बढ़ा दी गई है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *