अमर उजाला नेटवर्क, शिमला
अपडेटेड मॉन, 11 मई 2020 08:23 PM IST

शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनता है

हिमाचल के शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज की अध्यक्षता में सोमवार को आयोजित शिक्षा विभाग की बैठक में बड़े फैसले लिए गए हैं। कोरोनावायरस से बचाव के लिए हिमाचल के सरकारी और निजी स्कूलों को अभी खोलने का सरकार जोखिम नहीं उठाना चाहता है। ऐसे में स्कूलों को 31 मई तक बंद रखने का फैसला लिया गया है।

कॉलेजों में 25 मई से होने वाली छुट्टियों को 18 मई से 10 जून तक देने का विचार है। इन छुट्टियों के समाप्त होने में ही कॉलेजों में परीक्षाएं शुरू होंगी। शिक्षा विभाग ने 17 मई को लॉकडाउन समाप्त होने के बाद शैक्षणिक प्रस्तावों को शुरू करने के लिए एक्जिट प्लान तैयार कर लिया है। 13 मई को राज्य स्तरीय की बैठक में इस प्रस्ताव को अंतिम मंजूरी के लिए रखा जाएगा।

शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने सोमवार को सचिवालय में शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ विस्तृत चर्चा करिया की बैठक में पेश करने के लिए एक्जिट प्लान का प्रस्ताव तैयार किया। शिक्षा मंत्री ने बताया कि अभी भी स्कूलों को खोला नहीं जाएगा। 31 मई तक स्कूल बंद रखने की योजना है। बड़े परिवहन शुरू होने के बाद स्कूलों को जून में चरणबद्ध तरीके से खोला जाएगा। हालांकि, स्कूलों में पढ़ाई शुरू करने के लिए आगामी दिनों में पूरा प्लान तैयार किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के निजी स्कूलों की फीस कम करने के मामले पर दिल्ली की बैठक में चर्चा होगी। अभिभावकों के सुझाव आने के बाद अब निजी स्कूलों ने भी सरकार को अपनी मांगपत्र सौंप दिया है। प्रदेश के कुछ निजी स्कूलों ने सरकार को अपनी खराब आर्थिक स्थिति का हवाला देकर फीस कम नहीं करने की मांग की है। सभी पक्षों के सुझाव और आपत्तियां आने के कारण अब शिक्षा विभाग ने दोबारा से इस बाबत मंथन शुरू कर दिया है।

शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने बताया कि शिक्षा विभाग के अधिकारियों को इस संदर्भ में विस्तृत प्रस्ताव लाने को कहा है। निजी स्कूलों ने भी अपने स्टाफ को वेतन देना है। इस वैश्विक महामारी के दौर में किसी भी वर्ग पर बहुत अधिक आर्थिक बोझ न पड़े। इन सभी चीजों पर विचार करने के बाद ही आगामी निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में निजी स्कूल भी कई तरह के हैं। कुछ स्कूलों में फीस सामान्य है जबकि कुछ में फीस अधिक है। ऐसे में सभी पक्षों को ध्यान में रख कर योजना बनाई जा रही है।

हिमाचल के शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज की अध्यक्षता में सोमवार को आयोजित शिक्षा विभाग की बैठक में बड़े फैसले लिए गए हैं। कोरोनावायरस से बचाव के लिए हिमाचल के सरकारी और निजी स्कूलों को अभी खोलने का सरकार जोखिम नहीं उठाना चाहता है। ऐसे में स्कूलों को 31 मई तक बंद रखने का फैसला लिया गया है।

कॉलेजों में 25 मई से होने वाली छुट्टियों को 18 मई से 10 जून तक देने का विचार है। इन छुट्टियों के समाप्त होने में ही कॉलेजों में परीक्षाएं शुरू होंगी। शिक्षा विभाग ने 17 मई को लॉकडाउन समाप्त होने के बाद शैक्षणिक प्रस्तावों को शुरू करने के लिए एक्जिट प्लान तैयार कर लिया है। 13 मई को राज्य स्तरीय की बैठक में इस प्रस्ताव को अंतिम मंजूरी के लिए रखा जाएगा।

शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने सोमवार को सचिवालय में शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ विस्तृत चर्चा करिया की बैठक में पेश करने के लिए एक्जिट प्लान का प्रस्ताव तैयार किया। शिक्षा मंत्री ने बताया कि अभी भी स्कूलों को खोला नहीं जाएगा। 31 मई तक स्कूल बंद रखने की योजना है। बड़े परिवहन शुरू होने के बाद स्कूलों को जून में चरणबद्ध तरीके से खोला जाएगा। हालांकि, स्कूलों में पढ़ाई शुरू करने के लिए आगामी दिनों में पूरा प्लान तैयार किया जाएगा।


आगे पढ़ें

निजी स्कूलों की फीस कम करने का काउंटर





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *