नई दिल्ली: एक ओर भारत में वैक्सीन को लेकर ट्रायल चल रहा है कोरोना (कोरोना) से जूझ रही दुनिया के लिए इजरायल से एक गुड न्यूज आई है। अनुमतिरायल ने दावा किया है कि उसने कोरोना को मां देने वाला वैक्सीन ढूंढ लिया है। घातक बम बनाने वाली इजरायल की रायपुर ने कोरोना वैक्सीन (कोरोनावायरस वैक्सीन) खोजने का दावा किया है।

इजरायल की खुफिया जानकारी ने पाया कोरोना वैक्सीन!
पूरी दुनिया को कोरोनावायरस (कोरोनावायरस) को हराने वाली वैक्सीन का बेसब्री से इंतजार है। अनुमतिरायल ने दावा किया है कि वैक्सीन को लेकर दुनिया का इंतजार खत्म होने वाला ही है। इजरायल ने कोरोना की वैक्सीन बनाने का दावा किया है। इसकी ऐलान इजरायल के रक्षा मंत्री औरताली बेन्नेट ने की है।

अनुमतिरायल ने दावा किया है कि ये वैक्सीन शरीर के अंदर ही कोरोनावायरस को खत्म करने में सक्षम है। ये वैक्सीन वायरस को शरीर के दूसरे हिस्सों में फैलने से रोकती है। दावा किया जा रहा है कि इजरायल के डिफेंस बायोलॉजिकल इंस्टीट्यूट ने कोरोनावायरस का टीका बनाया है।

अनुमतिरायल का खूफिया अस्पताल
इजरायल का ये बायोलॉजिकल इंस्टीट्यूट जैविक और रासायनिक हथियारों को बनाने के लिए जाना जाता है। इजरायल का डिफेंस बायोलॉजिकल इंस्टीट्यूट दक्षिणी तेलअबीब से 20 किलोमीटर की दूरी पर नेस जिओना में मौजूद है। दावा है कि ये रायपुर मैदान के काफी अंदर मौजूद है और यहां जो खतरनाक जहर और वायरस बनाए जाते हैं, उनका इस्तेमाल इजरायल की खुफिया एजेंसी मोसाद अपने दुश्मनों को मारने के लिए करती है।

अनुमतिरायल के लिए ये इंस्टीट्यूट कितनी महत्वपूर्ण है, इसका अंजाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दक्षिण के ऊपर से किसी विमान को उड़ाने की इजाजत नहीं है। जापान के दरवाजे बम प्रूफ बनाए गए हैं। इस इंसटट्यूट के बारे में किसी भी नक्शे में कोई जिक्र नहीं है।

वर्तमान में नारायण अब कोरोना वैक्सीन का पेटेंट कराने की तैयारी कर रहा है, जिसके बाद इसका कॉमर्शियल उत्पादन शुरू होगा।

ब्यूरो रिपोर्ट, ज़ी मीडिया

लाइव टीवी





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *