• जूम उन टेक कंपनियों में से एक है, जिसे कोरोनावायरस प्रकोप के बीच बहुत फायदा हुआ है
  • नेटफ्लिक्स के कुल 18.2 करोड़ सब्सक्राइबर हैं, हाल में जुड़े 16 मिलियन न्यू सब्सक्राइबर

दैनिक भास्कर

12 मई, 2020, शाम 06:24 बजे IST

नई दिल्ली। कोरोनावायरस के प्रकोप के चलते रहने में लाकडाउन को लागू किया गया है। लोग अपने घरों में बंद हैं। व्यवसाय ठप है कोविद -19 महामारी व्याप के लिए बुरी खबर रही है। लगभग सभी उद्योग इसके चपेट में हैं। टेक इंडस्ट्री की बात करें तो महामारी के चलते ज्यादातर कंपनियां आर्थिक तंगी से जूझ रही हैं। हालाँकि, कुछ टेक कंपनियां ऐसी भी हैं जिनकी चमक महामारी के दौरान बढ़ी है। कारोबार में वे पहले के मुकाबले काफी दुरुस्त हुए हैं। आइए जानते हैं टेक इंडस्ट्री में जीत और लुजर कंपनियों के बारे में-

विजेता

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप
कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए भारत सहित दुनिया के कई देश लॉकडाउन में हैं। इस दौरान ज्यादातर कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं। कार्यालय का पूरा कार्य वीडियो काँफ्रेंस ऐप पर शिफ़्ट हो गया है। इसके चलते वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप जूम (ज़ूम) की मांग बहुत तेजी से बढ़ गई है। यह ऐप अब लॉकडाउन के बीच सबसे अधिक डाउनलोड किए जाने वाला एंड्रॉइड ऐप बन गया है। जूम का बेसिक वर्जन वीडियो कॉन्फ्रेंस कॉल में 50 लोगों को शामिल होने की अनुमति देता है। मजेदार बात यह है कि वर्तमान में जूम ही एक मात्र ऐसा ऐप है जो 10 से अधिक लोगों को एक साथ वीडियो कॉल का अवसर देता है। यही कारण है कि यह ऐप कामकाजी पेशेवरों के लिए रातोंरात सबसे पसंदीदा ऐप बन गया है। देश में 400 मिलियन से अधिक यूजर्स के साथ यह ऐप टॉप पर बना हुआ है। जूम उन टेक कंपनियों में से एक है, जिसे कोरोनोइरस प्रकोप के बीच बहुत फायदा हुआ है।

गेमिंग ऐप
लाॅकडाउन में दिन भर घर पर रहने के कारण समय पास और मनोरंजन के लिए लोग ज्यादातर समय इनडोर गेम और ऑफलाइन गेमिंग ऐप पर बिस्टनेस होते हैं। ऑनलाइन गेम खेलने वालों की संख्या में भारी वृद्धि हुई है। लाखों लोगों की पसंदीदा गेमिंग ऐप ‘कॉल ऑफ़ ड्यूटी’ बन गई है। इसके अलावा लूडो किंग, कैरम बोर्ड ऐसे ऐप जो डिमांड काफी बढ़ चुके हैं। बोर्ड का मानना ​​है कि बोर्डिंग बोर्ड गेम्स की बिक्री में लगभग 35% वृद्धि हुई है। कुछ तो आउट ऑफ स्टॉक हो गए हैं।

स्ट्रीमिंग
कोरोनावायरस का प्रकोप दिसंबर से जारी है। इसके चलते लोग घरों में रहने को मजबूर हैं और जमकर ओटीटी प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर रहे हैं। इसके चलते नेटफ्लिक्स, ऑप्टिकल + सहित अन्य ओटीटी प्लेटफार्म के प्रति लोगों का रुझान बढ़ा है। नेटफ्लिक्स की कमाई बढ़ने के साथ ही उसकी सब्सक्राइबर बेस में बेतहाशा इजाफा दर्ज किया गया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2020 की पहली तिमाही में नेटफ्लिक्स के सब्सक्राइबर्स की संख्या में लगभग 1.6 करोड़ का इजाफा दर्ज किया गया है। इस तीन महीने के दौरान नेटफ्लिक्स प्लेटफॉर्म पर “टाइगर किंग” और “लव अनुमति ब्लाइंड” जैसे रियल्टी शो सबसे ज्यादा देखे गए। नेटफ्लिक्स के कुल 182.8 मिलियन (18.2 करोड़) सब्सक्राइबर हैं, जो कि दुनिया के किसी भी इंटरटेनमेंट सर्विस के मुकाबले कहीं ज्यादा हैं। इसमें से लगभग 2.3 मिलियन सब्सक्राइबर अमेरिका और कनाडा में है। वर्ष 2020 की पहली तिमाही में नेटफ्लिक्स का मुनाफा दोगुना बढ़कर 709 मिलियन डॉलर (5434 करोड़ रुपए) हो गया है, जो उस साल 2019 के आखिरी तिमाही में 344 मिलियन डॉलर था। वहीं, कंपनी का रेवेन्यू 28 फीसदी बढ़कर 5.7 बिलियन हो गया है। वहीं, मार्च के अंत में यूके और अन्य बाजार में लाॅन्च हुए ऑप्टिकल + के पास 33 मिलियन से अधिक ग्राहक थे। अब इसके पास लगभग 55 मिलियन यूजर्स हैं। इस बार कंडीशनिंग + नेटफ्लिक्स को एपिसोड टक्कर दे रही है। बता दें कि लाकडाउन के तहत सभी सिनेमा घर बंद हैं।

मिक्स्ड बैग

फिटनेस
लाकडाउन में जिम बंद हैं। फिटकरी का कारोबार ठप है। ऐसे में जिम के प्रति डिमांड बढ़ने के कारण फिट कंपनी ने अपनी सेवाओं को बदला है और वे वीडियो स्ट्रीमिंग में प्रवेश कर रहे हैं। लोग फिट पर ध्यान देने के लिए फिटनैट ऐप और वीडियो क्लासेस का सहारा ले रहे हैं। ज्यादातर फिट कोच इंटरनेट पर वीडियो स्ट्रीमिंग कक्षाएं चला रहे हैं। इस बीच पेलोटन साइकिलिंग क्लास काफी पसंद किया जा रहा है। लाकडाउन के दौरान व्यायाम स्टार्टअप पेलोटन ने लोकप्रियता में विस्फोट किया है। यह अन्य लोकप्रिय साइकलिंग वर्कआउट की तरह नहीं है, जिसमें आमतौर पर एक स्टूडियो में कक्षाएं शामिल होती हैं। पेलोटन के साथ आप स्टूडियो-ग्रेड सस्ते के लिए हजारों अन्य सदस्यों में शामिल हो सकते हैं। कंपनी ने इस साल काफी बेहतर प्रदर्शन किया है। पेलोटन के अलावा YouTuber जो विक्स ने अपने एट-होम वर्कआउट के साथ लोकप्रियता को नए आयाम पर छुआ है। यूट्यूबर ने लाइवस्ट्रीम के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज किया है।

अमेजन
मौजूदा संकट के समय ज्यादातर लोग खरीदारी के लिए आॅनलाइन बेवसाइट्स पर निर्भर हैं। इस बीच ई-कामेर्स कंपनी अमेजन को काफी फायदा हुआ है। लॅकडाउन के दौरान अमेजन के संस्थापक जेफिजोस दुनिया के सबसे धनी व्यक्ति की लिस्ट में टाॅप पर पहुंच चुके हैं। फोर्ब्स द्वारा जारी 2020 के अरबपतियों की लिस्ट के अनुसार बेजोस की कुल संपत्ति 113 अरब डॉलर है।बता दें कि अमेजन इंडिया ने अपने मंच से जुड़े लघु एवं मध्यम (एसएमबी) स्तर के लॉजिस्टिक कारोबारियों की मदद के लिए हाल ही में एक विशेष कोष का ऐलान किया था। कंपनी ने कहा था कि लॉकडाउन की वजह से एसएमबी वित्तीय तौर पर बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। यह कोष छोटे स्तर पर डिलीवरी और लॉजिस्टिक सेवाओं में उसके सहायकों को चुनता है और मालवाहक सहायकों की मदद करेगा। इसने उन्हें बंद कर दिया। कारण से उभरती नई आस्तियों के अनुरूप अपने कारोबारी मॉडल को ढालने में मदद करेगा।

लूजर

ट्रांसपोर्ट
इस समय हम खेल खेल रहे हैं, मूवी देख रहे हैं लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग के चलते बाहर नहीं निकल रहे हैं। इस कारण से ब्रिटेन में अप्रैल में कारों की बिक्री 97 प्रति गिरी है। इसे 1946 के बाद की सबसे बड़ी मासिक गिरावट बताई जा रही है। आंकड़ों के मुताबिक, पिछले साल अप्रैल में 1,61,064 नई कारों का पंजीकरण हुआ था, जो इस साल घटकर 4 हजार रह गए हैं। वहीं दूसरी ओर ऐप आधारित कैब बुकिंग स्टार्टअप कंपनी उबर ने हजारों% में कटौती कर रही है। ई-स्कूटर भी दबाव में हैं, कुछ शहरों में परिचालन बंद करना पड़ा है।

टेक मिडल सैनिक
इसके अलावा इस समय पर प्रॉपर्टी देने वाले सैन फ्रांसिस्को स्थित स्टार्टअप एयरबीएनबी (एयरबीएनबी), ओयो, वीवर्क सहित कई कंपनियां आर्थिक संकट से जूझ रही हैं। यरबीएनबी इंक वैश्विक स्तर पर 1900 कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का फैसला किया है। कंपनी अपने कुल वर्कफोर्स की संख्या का लगभग 25 प्रति कर्मचारियों की छंटनी कर रही है। वहीं ओयो ने हजारों कर्मचारियों को लीव विदौट पे पर भेजा है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed