नई दिल्ली: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (डोनाल्ड ट्रम्प) अब भी गलत कारणों की वजह से सुर्खियों में हैं। इस बार, उन्होंने चीन में पैदा हुईं एक अमेरिकी रिपोर्टर को लताड़ दिया। 27 अप्रैल के बाद डोनाल्ड ट्रम्प ने अपना पहला मीडिया ब्रीफिंग करने का फैसला किया। इस दौरान वे व्हाइट हाउस के गुलाब के बगीचे में थे, जहां उनके पीछे एक बोर्ड था, जिस पर लिखा था कि ‘टेस्टिंग के मामले में अमेरिका दुनिया में सबसे ऊपर है।’

प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक रिपोर्टर ने ट्रम्प से पूछा कि ‘आखिर वो टेस्टिंग को वैश्विक प्रतियोगिता के रूप में क्यों देखते हैं। जबकि अब भी हर दिन अमेरिकी अपनी जान गंवा रहे हैं? ‘ अमेरिका में कोरोनोवायरस (कोरोनावायरस) ने लगभग 80,000 से ज्यादा लोगों की जान ले ली है।

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी का ये संदेश विदेशी ब्रांड को दे सकता है कि एपिसोड टक्कर, देशवासियों से की ये अपील

लेकिन डोनाल्ड ट्रम्प को ये अच्छा नहीं लगा, उन्हें सवाल पसंद नहीं आया। या व्यापक कहें कि उन्हें चीनी-अमेरिकी रिपोर्टर का नाम वीइजिया जस पसंद नहीं आया। ट्रंप ने जवाब दिया ‘लोग दुनिया में हर जगह अपनी जान गंवा रहे हैं और शायद यह सवाल आपको चीन से पूछना चाहिए। मुझसे मत पूछिए, चीन से पूछिए यह सवाल, ठीक है? ‘

जतिन ने फिर सवाल किया – ‘सर, आप ऐसा मुझे ही क्यों कह रहे हैं? ट्रम्प ने कहा, ‘मैं ऐसा हर किसी से बोलूंगा जो इस तरह के बकवास सवाल पूछेगा।’ इसके बाद जंप को अनसुना करते हुए ट्रंप दूसरे रिपोर्टर की तरफ मुखातिब हो गए।

ट्रंप ने सीएनएन की महिला रिपोर्टर केटलेन कॉलिन्स से सवाल करने का कहा, लेकिन तुरंत ही उन्हें रोककर किसी और से सवाल करने की बात कहने लगे। केटलेन ने यह भी कहा कि आपने पहले मुझे बुलाया था। लेकिन ट्रम्प ने अचानक ही लोगों को धन्यवाद देकर राष्ट्रपति कॉन्फ्रेंस रोक दी और व्हाइट हाउस वापस चले गए।

व्हाइट हाउस से लीक हुई एक रिपोर्ट के अनुसार, कोरोनावायरस की दर अमेरिका के हार्टलैंड प्रदेशों में तेजी से फैल रही है। यह रिपोर्ट व्हाइट हाउस पैन्डैमिक टास्क फोर्स की है। रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका के कई महानगरीय क्षेत्रों और छोटे समुदायों में कोरोनावायरस संक्रमण की दर नई ऊंचाइयां छू रही है।

लाइव टीवी

तटीय क्षेत्रों में महामारी तेजी से फैल रही है जोनर हाडस्पॉट थे। अब ये टेक्सास, केंटकी, नेब्रास्का और एरिज़ोना की तरफ बढ़ रहे हैं।

ये वे स्थानीय बैंक जहां COVID-19 के मामलों की संख्या में 72 प्रतिशत या इससे अधिक वृद्धि हुई हैं। ये डेटा खतरनाक है और अमेरिकी राष्ट्रपति हालात सामान्य होने का दावा कर रहे हैं।

इसके बावजूद, राष्ट्रपति ट्रम्प चाहते हैं कि अमेरिका को लॉकडाउन से मुक्ति मिल जाए, जहां उनके समर्थक नियमित रूप से सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रहे हैं। वे मुख से नहीं बल्कि बंदूकों से लैस होते हैं, स्थितियां बेहद खराब हैं। विरोध में लॉकडाउन का विरोध प्रदर्शन करते हुए लोगों ने अदालत के बाहर स्क्वाट्स और पुश-अप किया। उनकी मांग थी कि जिम फिर से खोले जाएं, क्योंकि वे फिट रहना चाहते हैं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *