• वैज्ञानिकों ने कहा कि गर्मियों के बाद इस वैक्सीन का ह्यूसमन ट्रायल किया जाएगा
  • टैकिज बॉयोटेक की ओर से विकसित वैक्सीन का चूहों पर असर दिखा रहा है

दैनिक भास्कर

06 मई, 2020, 06:06 अपराह्न IST

रोम। इजराइल के बाद इटली ने घोषणा की है कि उसने कोरोनावायरस के इलाज की वैक्सीन को विकसित किया है। दावा है कि यह वैक्सीन इंसानों पर काम करता है। इटली ने इसे दुनिया की पहली वैक्सीन होने का दावा किया है। अरब न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक रोम के संक्रामक रोगों के अस्पताल ैं स्पैलैंजानी ’में इसका परीक्षण किया गया है। इस वैक्सीन से चूहों पर विकसित किए गए हैं। विकसित वायरस को कोशिकाओं में हमला करने से रोकती हैं।
दावा है कि यह इंसान की कोशिकाओं पर भी काम करता है। इस वैक्सीन को टैकिज बॉयोटेक ने विकसित किया है। टैकिज के सीईओ लुईगी ऑर्शिचियो ने इटैलियन न्यूज एजेंसी एट्सए को बताया, ‘वै इटली में बनाई गई वैक्सीन की टेस्टिंग सबसे एडवांस स्टेज में हैं। इस साल गर्मी के बाद इसका ह्यूमैन टेस्ट होगा। ”

अब तक 29,315 मौतें
इटली में अब तक 29 हजार 315 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां 2 लाख 13 हजार 13 प्रकार हैं। अमेरिका और ब्रिटेन के बाद सबसे ज्यादा मौतें इटली में ही हुई हैं। देश में 10 मार्च से लागू लॉकडाउन तीन मई तक बढ़ाया गया था। इसके बाद कुछ दुकानों को खोलने की छूट दी गई है। इटली में 21 फरवरी को पहला मामला सामने आया था।
इज़राइल का भी विकास करना का दावा है
इससे पहले इजराइल के रक्षा मंत्री नैफ्टली बेनेट ने भी कोरोनावायरस का वैक्सीन तैयार करने का दावा किया है। उनके मुताबिक, इजरायल इंस्टीट्यूट फॉर बायोलॉजिकल रिसर्च (आईआईबीआर) ने वैक्सीन तैयार करने में कामयाबी हासिल की है। यह महामारी से लड़ाई में मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि यह एंटब और मोनोक्लोनल तरीके से वायरस पर हमला करता है और इसे शरीर के अंदर ही मारने में सक्षम है। हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि वैक्सीन का ट्रायल इंसानों पर हुआ है या नहीं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *