• ऋण पुनर्भुगतान पर तीन महीने के मोराटोरियम के बाद भी नहीं सुधरे आर्थिक हालात
  • एमएसएमई से जुड़े सुझावों को वित्त मंत्री और प्रधानमंत्री के साथ साझा किया गया

दैनिक भास्कर

12 मई, 2020, 09:48 AM IST

नई दिल्ली। केंद्रीय सड़क परिवहन और एमएसएमई मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार को उम्मीद जताई कि केंद्र सरकार दो-तीन दिनों में वित्तीय पैकेज की घोषणा कर देगी। उन्होंने कहा कि आरबीआई की ओर से लोन पुनर्भुगतानन पर तीन महीने का मोराटोरियम देने के बावजूद आर्थिक स्थिति बहुत संकट में है।

सरकारी उद्योग के साथ
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार उद्योग के साथ खड़ी है लेकिन उद्योग को भी सरकार की सीमाओं को समझना चाहिए। उन्होंने कहा कि हम प्रत्येक व्यक्ति को अच्छी तरह से बचाने की कोशिश कर रहे हैं। गडकरी ने कहा कि जापान और अमेरिका ने बड़े पैकेज की घोषणा की है, क्योंकि वहां की अर्थव्यवस्था भारत के मुकाबले काफी बड़ी है।

आरबीआई ने की रिले के चरणों की शुरुआत की
तेलंगाना के उद्योग और वाणिज्य संगठनों के सदस्यों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि लोगों की परेशानियों को दूर करने के लिए उपाय किए जा रहे हैं। आरबीआई ने तीन महीने के मोराटोरियम के ऐलान के साथ राहत के चरणों की शुरुआत की है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने वित्त मंत्रालय को व्यक्तिगत इनकम टैक्स और जीएसटी रिफंड तुरंत बैंक खातों में ट्रांसफर करने का सुझाव दिया है।

वित्त मंत्री-पीएम से साझा किए गए सीपीएमई से जुड़े सुझाव
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम इंटर्प्राइज (एमएसएमई) से जुड़े संगठनों के साथ कई बार बातचीत की।]ये बातचीत के आधार पर जो सुझाव सामने आए हैं, उनमें वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ साझा किए गए हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हम दो-तीन दिन में सरकार की ओर से पैकेज की उम्मीद कर रहे हैं। हम इसके लिए इंतजार कर रहे हैं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *