माइकल वॉन ने कहा कि विराट कोहली को पारी की शुरुआत में खुद को थोड़ा वक्त देना चाहिए. (Michael Vaughan/ Instagram)

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) का मानना है कि अगर टीम इंडिया को इस साल होने वाला टी20 वर्ल्ड कप(T20 World cup 2021) जीतना है तो कप्तान विराट कोहली ( Virat Kohli) को थोड़ा मतलबी बनना होगा

नई दिल्ली. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) का मानना है कि अगर टीम इंडिया को इस साल होने वाला टी20 वर्ल्ड कप(T20 World cup 2021) जीतना है तो कप्तान विराट कोहली ( Virat Kohli) को थोड़ा मतलबी बनना होगा. वॉन ने कहा कि कोहली को पारी की शुरुआत में खुद को थोड़ा वक्त देना चाहिए. खुद को सेट करने के लिए वो कम से कम 10 गेंदें खेलें. अगर वो 3-4 गेंद खाली भी छोड़ भी देते हैं, तो आपको पता है कि एक-दो बाउंड्री लगाकर वो इसकी भरपाई कर देंगे और फिर उन्हें रोकना आसान नहीं होगा. वॉन ने क्रिकबज से चर्चा के दौरान ये बातें कहीं.

वॉन ने आगे कहा कि मैं कोहली की बल्लेबाजी को लेकर कभी परेशान नहीं होता हूं क्योंकि वो कभी भी आउट ऑफ फॉर्म दिखते नहीं है. उनके दिमाग में कुछ चल रहा होगा जो फिलहाल सही नहीं दिख रहा है, लेकिन पुराने विराट कोहली के रूप में लौटने से सिर्फ 10-15 गेंदें ही दूर हैं. उन्हें बहुत जल्दी रन बनाने के लिए ज्यादा जोखिम मोल नहीं लेना चाहिए.

कोहली शून्य पर सबसे ज्यादा आउट होने वाले भारतीय कप्तान
बता दें कि विराट कोहली इंग्लैंड के खिलाफ अहमदाबाद में शुक्रवार को हुए पहले टी20 में बिना खाता खोले आउट हो गए थे. उन्हें स्पिनर आदिल रशीद ने अपना शिकार बनाया था. दरअसल, कोहली रशीद की गेंद को मिड ऑफ के ऊपर से मारने के चक्कर में अपना विकेट गंवा बैठे थे. वो बतौर कप्तान इंटरनेशनल क्रिकेट में 14वीं बार बिना खाता खोले आउट हुए थे. उन्होंने सौरव गांगुली के 13 बार शून्य पर आउट होने के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा था.यह भी पढ़ें: IND vs ENG: गेंदबाज या बल्लेबाज नहीं बल्कि टॉस करेगा टी20 सीरीज का फैसला!

कोहली अपनी पिछली 5 अंतरराष्ट्रीय पारियों में तीन बार शून्य पर आउट हो चुके हैं. इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज की आखिरी 4 पारियों में उनका स्कोर 0, 62, 27, 0 रहा था. विराट ने अपना पिछला इंटरनेशनल शतक नवंबर 2019 में लगाया था. तब उन्होंने डे नाइट टेस्ट में बांग्लादेश के खिलाफ 136 रन की पारी खेली थी. इसके बाद से वो टेस्ट, वनडे और टी20 तीनों में से किसी भी फॉर्मेट में शतक नहीं लगा पाए हैं. इस दौरान उन्होंने 13 टी20, 7 टेस्ट और 12 वनडे खेले हैं. ऐसे में फैंस को उनसे शतक की उम्मीद है.




.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *