पंत के मुद्दे पर नेहरा ने कसा टीम इंडिया पर तंज किया

आशीष नेहरा (आशीष नेहरा) ने पूर्व क्रिकेट और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा से टीम इंडिया के कई मुद्दों पर चर्चा की।

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज आशीष नेहरा (आशीष नेहरा) सीधी बात करते हैं। मुद्दा कोई भी हो वे शेअर जवाब देते हैं, कुछ ऐसा ही उन्होंने पूर्व दंत चिकित्सकों और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा के शो में भी किया। आशीष नेहरा ने भारतीय टीम के कई मुद्दों पर आकाश चोपड़ा से चर्चा की। नेहरा ने कहा कि विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया की 2000 दशक की टीम के बराबर नहीं कहा जा सकता है, जिसके लिए अब उसे भी लंबा रास्ता तय करना होगा। कोहली के नेतृत्व में भारत ने 2018-19 में ऑस्ट्रेलिया में अपनी पहली श्रृंखला जीती थी जिसके लिए टीम को सात दशक का इंतजार करना पड़ा था। हालांकि इसके लिए स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर की अनुपस्थिति को महत्वपूर्ण नहीं माना जा सकता है, जो उस समय गेंद से छेड़छाड़ के कारण प्रतिबंधित थे।

‘भारतीय टीम को काफी मेहनत करनी होगी’

नेहरा (आशीष नेहरा) ने पूर्व खिलाड़ी आकाश चोपड़ा के शो ’आकाशवाणी’ पर कहा, भारतीय इस भारतीय टीम को उस आस्ट्रेलियाई टीम (स्टीव वॉ और फिर रिकी पोंटिंग की कप्तानी) के बराबरी करने के लिए दूरी तय करनी होगी। ’ उन्होंने कहा, ‘आप ऑस्ट्रेलियाई टीम के बारे में बात कर रहे हैं जिन्होंने लगातार तीन विश्व कप जीते थे और फिर 1996 के फाइनल में पहुंची थी, उन्होंने घरेलू और विदेशी सरजमीं पर 18-19 टेस्ट मैच जीते थे।’

टीम संयोजन से छेड़छाड़ से नेहरा नाखुशआशीष नेहरा (आशीष नेहरा) टीम संयोजन से बार बार छेड़छाड़ किए जाने से खुश नहीं दिखते। उन्होंने कहा, ‘ऐसा नहीं है कि यह भारतीय टीम वहां तक ​​नहीं पहुंच सकती है, लेकिन मेरा मानना ​​है कि कोर ग्रुप बहुत महत्वपूर्ण है। कोई भी आदमी अगर टेबल पर बहुत सारे खाल देखेगा तो वह असमंजस में पड़ जाएगा इसलिए सबसे महत्वपूर्ण बात कम है लेकिन बेहतर सेंसर होना चाहिए।

‘धोनी का उत्तराधिकारी पंत पानी पिला रहा है’

नेहरा ने उदाहरण देते हुए कहा कि टीम प्रबंधन ने अभी तक किस तरह ऋषभ पंत (ऋषभ पंत) के करियर को कैसे संभाला है। उन्होंने कहा, ‘लोकेश राहुल पांच स्थान पर खेल रहे हैं और जिस व्यक्ति पंत को आप महेंद्र सिंह धोनी की जगह लाने की तैयारी कर रहे थे, वे अब ड्रिंक्स दे रहे हैं।’ पंत लगातार अच्छी बल्लेबाजी नहीं कर पाने के कारण सीमित ओवरों की क्रिकेट में भारतीय टीम में अपना स्थान राहुल को गंवा चुके हैं। नेहरा ने कहा, ‘मैं जानता हूं कि उसने (पंत) ने अपने मौके गंवा दिए और उसमें कोई मुश्किल नहीं है लेकिन आपने उसे टीम में रखा है क्योंकि 22-23 साल की उम्र में आपने संभावना देखी थी।’ नेहरा ने आगे कहा, ‘ऐसे ही काफी प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी हैं लेकिन उनका लंबे समय तक समर्थन किया जाना चाहिए था। आज जब हम भारतीय वनडे टीम में टॉम और छठे स्थान की बात करते हैं तो हम इसके बारे में सुनिश्चित नहीं होते। ‘

‘विराट को बतौर कप्तान और सुधार की जरूरत’

नेहरा ने कोहली की कप्तानी के बारे में कहा कि वह अभी भी प्रगति कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘विराट कोहली को बतौर खिलाड़ी किसी प्रशंसा की जरूरत नहीं है क्योंकि उसका करियर ग्राफ ही पूरी कहानी बयां कर देता है। बतौर खिलाड़ी कोहली ने काफी अच्छा काम किया है। प्रापणी में मुझे अब भी लगता है कि वह अभी प्रगति की ओर है। कप्तान के तौर पर मैं कह सकता हूं कि वह थोड़ा जोश में आकर फैसला करता है। ‘

अजीबोगरीब की मांग: ऑस्ट्रेलिया दौरा रद्द कर पाकिस्तान से टेस्ट सीरीज खेले भारत

ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज बोला- जिन्हें विराट पसंद है, वो जरा एक बार बाबर आजम को देखते हैं

News18 हिंदी सबसे पहले हिंदी समाचार हमारे लिए पढ़ना यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर । फोल्ट्स। देखिए क्रिकेट से संलग्न लेटेस्ट समाचार।

प्रथम प्रकाशित: 6 मई, 2020, 7:03 PM IST


इस दिवाली बंपर अधिसूचना
फेस्टिव सीजन 75% की एक्स्ट्रा छूट। केवल 289 में एक साल के लिए सब्सक्राइब करें करें मनी कंट्रोल प्रो।कोड कोड: DIWALI ऑफ़र: 10 नवंबर, 2019 तक

->





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *