रिपोर्टर डेस्क, अमर उजाला, रायपुर
अद्यतित मंगल, 12 मई 2020 03:32 PM IST

ख़बर सुनता है

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी गंभीर रूप से बीमार हैं और उनके तबीयत में कोई सुधार नहीं है। चिकित्सक उनके मस्तिष्क को क्रियाशील करने के लिए उनके पसंदीदा गीतों को सुनवा रहे हैं। रायपुर के श्री नारायण अस्पताल के प्रबंध निदेशक डॉ सुनील खेमका ने मंगलवार को यहां बताया कि 74 साल के जोगी की स्थिति लगातार चिंताजनक बनी हुई है। उनका दिल, ब्लड प्रेशर और यूरिन आइटम कंट्रोल है। उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया है।

खेमका ने बताया कि जोगी की न्यूरोलॉजिकल (मस्तिष्क) क्रियाओं में लगभग नहीं के बराबर हैं। चिकित्सा नियमों के तहत उपचार जारी है और चिकित्सक उनके मस्तिष्क को क्रियाशील करने का पूरा प्रयास कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि सोमवार से जोगी को AUD थापरी भी दी जा रही है, जिसके तहत उनके पसंदीदा गानों को उन्हें ईयरफोन लगा कर सुनवाया जा रहा है। इससे यह कोशिश की जा रही है कि सामान्य प्रक्रिया से उनके मस्तिष्क को जागृत किया जाए लेकिन अभी तक इसमें सफलता नहीं मिली है।

खेमका ने बताया कि मंगलवार को आंतरिक नर्स दिवस पर श्री नारायण अस्पताल के सभी नर्सिंग स्टाफ ने परमपिता परमेश्वर से अजीत जोगी के अभियान स्वास्थ होने की कामना की। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री जोगी की तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें शनिवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

परिवार के सदस्यों के अनुसार अजीत जोगी शनिवार सुबह व्हीलचेयर पर गार्डन में घूम रहे थे। इस दौरान उन्होंने इमली खाई और बाद में वह अचानक बेहोश हो गई। भारतीय प्रशासनिक सेवा से राजनीति में आए अजीत जोगी वर्तमान में मारग्रेशन क्षेत्र से विधायक हैं। उनकी पत्नी रेनु जोगी कोटा क्षेत्र से विधायक हैं।

जोगी वर्ष 2000 में छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के दौरान यहां पहले मुख्यमंत्री बने और वर्ष 2003 तक मुख्यमंत्री रहे। राज्य में वर्ष 2003 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी से परजित हो गया था। राज्य में कांग्रेस नेताओं से मतभेद के कारण जोगी ने वर्ष 2016 में नई पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) का गठन कर लिया था और वह उसके प्रमुख हैं।

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी गंभीर रूप से बीमार हैं और उनके तबीयत में कोई सुधार नहीं है। चिकित्सक उनके मस्तिष्क को क्रियाशील करने के लिए उनके पसंदीदा गीतों को सुनवा रहे हैं। रायपुर के श्री नारायण अस्पताल के प्रबंध निदेशक डॉ सुनील खेमका ने मंगलवार को यहां बताया कि 74 साल के जोगी की स्थिति लगातार चिंताजनक बनी हुई है। उनका दिल, ब्लड प्रेशर और यूरिन आइटम कंट्रोल है। उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया है।

खेमका ने बताया कि जोगी की न्यूरोलॉजिकल (मस्तिष्क) क्रियाओं में लगभग नहीं के बराबर हैं। चिकित्सा नियमों के तहत उपचार जारी है और चिकित्सक उनके मस्तिष्क को क्रियाशील करने का पूरा प्रयास कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि सोमवार से जोगी को AUD थापरी भी दी जा रही है, जिसके तहत उनके पसंदीदा गानों को उन्हें ईयरफोन लगा कर सुनवाया जा रहा है। इससे यह कोशिश की जा रही है कि सामान्य प्रक्रिया से उनके मस्तिष्क को जागृत किया जाए लेकिन अभी तक इसमें सफलता नहीं मिली है।

खेमका ने बताया कि मंगलवार को आंतरिक नर्स दिवस पर श्री नारायण अस्पताल के सभी नर्सिंग स्टाफ ने परमपिता परमेश्वर से अजीत जोगी के अभियान स्वास्थ होने की कामना की। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री जोगी की तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें शनिवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

परिवार के सदस्यों के अनुसार अजीत जोगी शनिवार सुबह व्हीलचेयर पर गार्डन में घूम रहे थे। इस दौरान उन्होंने इमली खाई और बाद में वह अचानक बेहोश हो गई। भारतीय प्रशासनिक सेवा से राजनीति में आए अजीत जोगी वर्तमान में मारग्रेशन क्षेत्र से विधायक हैं। उनकी पत्नी रेनु जोगी कोटा क्षेत्र से विधायक हैं।

जोगी वर्ष 2000 में छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के दौरान यहां पहले मुख्यमंत्री बने और वर्ष 2003 तक मुख्यमंत्री रहे। राज्य में वर्ष 2003 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी से परजित हो गया था। राज्य में कांग्रेस नेताओं से मतभेद के कारण जोगी ने वर्ष 2016 में नई पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) का गठन कर लिया था और वह उसके प्रमुख हैं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *