वाशिंगटन: विदेशों में किसान आंदोलन की आड़ में लगातार खालिस्तान समर्थक अपनी मांगें थोपने का काम कर रहे हैं। इस बार अमेरिका के वाशिंगटन से आईं ये तस्वीरें इस बात की गग्रन्थ दे रही हैं। यहां किसान आंदोलन के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे कुछ लोगों ने भारतीय दूतावास के करीब बने गांधी जी की प्रतिमा को खालिस्तानी झंडे से ढक दिया।

भारतीय दूतावास तक निकाली रैली

इस प्रदर्शन में ग्रेटर वाशिंगटन, मैरिलैंड (मैरीलैंड), वर्जीनिया (वर्जीनिया), न्यूयॉर्क (न्यूयॉर्क), न्यू जर्सी (न्यू जर्सी), पेंसिलवेनिया (पेंसिल्वेनिया), इंडियाना (इंडियाना), ओहायो (ओहियो), नार्थ कैरोलीना (उत्तर) कैरोलिना) जैसे राज्यों से सिख समुदाय के लोग इकट्ठा हुए। प्रदर्शनकारियों ने अपने-अपने राज्यों से वॉशिंगटन स्थित भारतीय दूतावास (भारतीय दूतावास) तक कार रैली निकाली।

निदिधिवनी नारे

प्रदर्शन के बीच हाथ में खालिस्तानी झंडे के लिए कुछ अलगाववादी सिखा शामिल थे, जिसमें इन्होनें न सिर्फ भारत विरोधी नारे लगाए गए, बल्कि खालिस्तान के समर्थन में नारेबाजी भी की। हाथों में कृपाण के लिए इनदिनिमानी प्रदर्शनकारियों नें भारतीय दूतावास (भारतीय दूतावास) के बाहर शुरू महात्मा गांधी की प्रतिमा को भी खराब किया। इतना ही नहीं इन लोगों ने प्रधानमंत्री मोदी की फोटो को स्टेच्यू पर टांग दिया।

भारतीय दूतावास की शिकायत है

खालिस्तानी समर्थकों की इस गुंडागर्दी पर भारतीय दूतावास ने एक राज्य जारी किया है। इस स्टेटमेंट में उन्होंने लिखा ” दूतावास के बाहर शुरू हुई महात्मा गांधी की मूर्ती को खालिवानी तत्वों द्वारा खराब किया गया है। ये लोग प्रदर्शनकारी का चेहरा पहने बदमाश हैं। एम्बेसी इनकी इस हरकत की निंदा करती है। इस बयान में भारतीय दूतावास की तरफ से ये भी बताया गया कि इन लोगों के खिलाफ उन्होंने अमेरिका की लॉ इन्फोर्समेंट एजेंसी के पास शिकायत दर्ज कराई है।

लेबर पार्टी की सांसद ने माफी मांगी

इसके बाद वहाँ के लेबर पार्टी की सांसद ताएवो ओवातेमी उनका समर्थन में एक ट्वीट किया था, लेकिन जल्द ही उन्होंने अपने ट्वीट के लिए माफी मांगी है। उन्होंने कहा ” सिखों के न्याय के लिए आसानी से गए ट्वीट को पोस्ट करने के लिए बहुत से व्यक्तियों ने मुझे ईमेल किया एक कर्मचारी जो मेरे सोशल मीडिया हैंडल को चलाने में मदद करता है, उसने ये ट्वीट पोस्ट किया था। अब हटा दिया गया है। मैं ईमानदारी से अपने किसी भी घटक के कारण हुए अपराध के लिए माफी माँगता हूँ।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: