• प्रो। चोमस्की ने कहा कि ट्रम्प औसत अमेरिकियों की पीठ में छुरा भोंक रहे हैं और देश का रक्षक बनने का दिखावा कर रहे हैं।
  • ‘राष्ट्रपति ने देश के उभरते हुए इंजीनियरिंग की मदद के लिए संक्रामक बीमारी की स्वास्थ्य सुविधाओं और शोध के लिए फंडिंग में कटौती की’

दैनिक भास्कर

11 मई, 2020, 10:57 पूर्वाह्न IST

वाशिंगटन। जाने माने दार्शनिक प्रो। आलम चोमस्की ने कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प हजारों अमेरिकियों की मौत के लिए जिम्मेदार हैं। उन्होंने कोरोना महामारी का अपनी चुनीवी संभावनाओं के लिए इस्तेमाल किया। देश के अमीर इंजीनियरिंग की मदद के लिए संक्रामक बीमारी की स्वास्थ्य सुविधाओं और शोध के धन में कटौती की। प्रो। चॉम्स्की ने गार्जियन न्यूज वेबसाइट से इंटरव्यू में यह बातें कही। उन्होंने कहा कि ट्रम्प औसत अमेरिकियों की पीठ में छुरा भोंक रहे हैं और देश का रक्षक बनने का दिखावा भी कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि ट्रम्प अपने कार्यकाल में हर साल फंड में कटौती करते हैं। अब वे ऐसा कुछ बहुत ही कर रहे हैं। उनकी योजना में यह कटौती जारी रखी गई है, जिससे जनता की स्थिति संभव हो सकती है। हालांकि, वे अपने प्राइमरी चुनाव के उम्मीदवारों की संपत्ति, काउंटी शक्ति और उनका लाभ बढ़ाना चाहते हैं।

‘राष्ट्रपति ने अपनी ड्यूटी सही तरीके से नहीं रखी’

प्रो। चोमस्की ने कहा कि राष्ट्रपति ने अपनी ड्यूटी सही ढंग से नहीं रखी। उन्होंने राज्यों के गवर्नर को कोरोना से लड़ने की जिम्मेदारी लेने के लिए मजबूर किया। यह उनकी ज्यादा लोगों को मरवाने और अपनी चुनावी राजनीति सुधारने की रणनीति है। ट्रम्प के विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की फंडिंग रोकने से यमन और अफ्रीकी महाद्वीप पर मौतें बढ़ेंगी।

कौन हैं प्रो चोमस्की?

प्रो चोमस्की एक अमेरिकी दार्शनिक और भाषा विज्ञानी हैं। वे इतिहासकार, सामाजिक समालोचक और राजनीतिक कार्यकर्ता के तौर पर भी जाने जाते हैं। प्रो चोमस्की को आधुनिक भाषा विज्ञान का पिता भी कहा जाता है। इसके साथ ही काग्निटिव साइंस के क्षेत्र में भी काम किया गया है। प्रो। चोमस्की 100 से ज्यादा किताबें भी लिखी गई हैं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: