ख़बर सुनता है

भारतीय रेलवे की योजना है कि 12 मई से यात्री रेलगाड़ियों के परिचालन को लेकर योजना बना रही है। शुरुआत में 15 जोड़ी ट्रेनों का परिचालन हो सकता है। इन ट्रेनों को नई दिल्ली स्टेशन से देश के 15 महत्वपूर्ण शहरों को जोड़ने वाली विशेष ट्रेनों के रूप में बदला जाएगा।

रेल मंत्रालय ने इसे लेकर एक विस्तृत योजना का निर्माण किया है। शुरुआत में कम संख्या में ही ट्रेनों का संचालन किया जाएगा। इस दौरान लोगों के स्वास्थ्य और कोरोना संक्रमण की जांच भी होगी।

दिल्ली से इन 15 शहरों के लिए चलनेएंगी ट्रेन

  • नई दिल्ली-डीआरएमएगढ़
  • नई दिल्ली-अगरतला
  • नई दिल्ली- हवड़ा
  • नई दिल्ली-गढ़
  • नई दिल्ली-बिलपुर
  • नई दिल्ली-रांची
  • नई दिल्ली- भुवी
  • नई दिल्ली-सिकंदराबाद
  • नई दिल्ली-बंगलुरू
  • नई दिल्ली-चेन्नई
  • नई दिल्ली-तिरुवनंतपुरम
  • नई दिल्ली-मडगाँव
  • नई दिल्ली-मुंबई सेंट्रल
  • नई दिल्ली-अहमदाबाद
  • नई दिल्ली-जे तवी

उसके बाद रेलवे ने कुछ अन्य स्टेशनों पर विशेष ट्रेनों का संचालन किया हालांकि यह कोचों की उपलब्धता पर निर्भर करेगा क्योंकि 20000 कोचों को विभाजित -19 कैर सेंटर के रूप में आरक्षित किया गया है, जबकि प्रतिदिन 300 श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने के लिए भी पर्याप्त संख्या में कोच हैं। रिजर्व हैं।

सोमवार से बुकिंग शुरू

नई दिल्ली से चलाई जाने वाली ट्रेनों के आरक्षण के लिए बुकिंग 11 मई को शाम चार बजे से शुरू होगी और केवल आईआरसीटीसी की वेबसाइट उपलब्ध होगी। रेलवे स्टेशनों पर टिकट बुकिंग काउंटर बंद रहेगा और कोई काउंटर टिकट (प्लेटफॉर्म टिकट सहित) जारी नहीं किया जाएगा। सभी कोच एसी और स्टॉप भी बेहद सीमित होंगे। इन ट्रेनों में यात्रा के लिए पूंजी ट्रेनों के बराबर किराया देना होगा।

नियमों का पालन होगा

केवल वैध कंफर्म टिकट वाले यात्रियों को रेलवे स्टेशनों में प्रवेश करने की अनुमति होगी। प्रोटोकॉल के तहत यात्रियों को स्टेशन पर कम से कम एक घंटे पहले पहुंचना होगा।यात्रियों को प्रवेश के दौरान संकाय अनिवार्य होगा और प्रस्थान के समय स्क्रीनिंग से गुजरना होगा और सिर्फ यात्रियों को ट्रेन में चढ़ने की अनुमति होगी। सिर्फ उन्हीं लोगों को ट्रेन में चढ़ने की अनुमति होगी जिनमें वायरस से संक्रमण के कोई लक्षण नजर नहीं आएंगे। आरोग्य सेतु उपकरण जरूर डाउनलोड होना चाहिए।

लॉकडाउन के चलते रेल यातायात पूरी तरह से प्रभावित था, जो कि अब भारत सरकार ने बड़ा फैसला लेकर ट्रेनों का संचालन 12 मई से शुरू करने की घोषणा की है। रेलवे ने केंद्र सरकार के आदेश के बाद 22 मार्च से अपनी सेवाएं बंद कर दी थीं।

भारतीय रेलवे की योजना है कि 12 मई से यात्री रेलगाड़ियों के परिचालन को लेकर योजना बना रही है। शुरुआत में 15 जोड़ी ट्रेनों का परिचालन हो सकता है। इन ट्रेनों को नई दिल्ली स्टेशन से देश के 15 महत्वपूर्ण शहरों को जोड़ने वाली विशेष ट्रेनों के रूप में बदला जाएगा।

रेल मंत्रालय ने इसे लेकर एक विस्तृत योजना का निर्माण किया है। शुरुआत में कम संख्या में ही ट्रेनों का संचालन किया जाएगा। इस दौरान लोगों के स्वास्थ्य और कोरोना संक्रमण की जांच भी होगी।

दिल्ली से इन 15 शहरों के लिए चलनेएंगी ट्रेन

  • नई दिल्ली-डीआरएमएगढ़
  • नई दिल्ली-अगरतला
  • नई दिल्ली- हवड़ा
  • नई दिल्ली-गढ़
  • नई दिल्ली-बिलपुर
  • नई दिल्ली-रांची
  • नई दिल्ली- भुवी
  • नई दिल्ली-सिकंदराबाद
  • नई दिल्ली-बंगलुरू
  • नई दिल्ली-चेन्नई
  • नई दिल्ली-तिरुवनंतपुरम
  • नई दिल्ली-मडगाँव
  • नई दिल्ली-मुंबई सेंट्रल
  • नई दिल्ली-अहमदाबाद
  • नई दिल्ली-जे तवी

उसके बाद रेलवे ने कुछ अन्य स्टेशनों पर विशेष ट्रेनों का संचालन किया हालांकि यह कोचों की उपलब्धता पर निर्भर करेगा क्योंकि 20000 कोचों को विभाजित -19 कैर सेंटर के रूप में आरक्षित किया गया है, जबकि प्रतिदिन 300 श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने के लिए भी पर्याप्त संख्या में कोच हैं। रिजर्व हैं।

सोमवार से बुकिंग शुरू

नई दिल्ली से चलाई जाने वाली ट्रेनों के आरक्षण के लिए बुकिंग 11 मई को शाम चार बजे से शुरू होगी और केवल आईआरसीटीसी की वेबसाइट उपलब्ध होगी। रेलवे स्टेशनों पर टिकट बुकिंग काउंटर बंद रहेगा और कोई काउंटर टिकट (प्लेटफॉर्म टिकट सहित) जारी नहीं किया जाएगा। सभी कोच एसी और स्टॉप भी बेहद सीमित होंगे। इन ट्रेनों में यात्रा के लिए पूंजी ट्रेनों के बराबर किराया देना होगा।

नियमों का पालन होगा

केवल वैध कंफर्म टिकट वाले यात्रियों को रेलवे स्टेशनों में प्रवेश करने की अनुमति होगी। प्रोटोकॉल के तहत यात्रियों को स्टेशन पर कम से कम एक घंटे पहले पहुंचना होगा।यात्रियों को प्रवेश के दौरान संकाय अनिवार्य होगा और प्रस्थान के समय स्क्रीनिंग से गुजरना होगा और सिर्फ यात्रियों को ट्रेन में चढ़ने की अनुमति होगी। सिर्फ उन्हीं लोगों को ट्रेन में चढ़ने की अनुमति होगी जिनमें वायरस से संक्रमण के कोई लक्षण नजर नहीं आएंगे। आरोग्य सेतु उपकरण जरूर डाउनलोड होना चाहिए।

लॉकडाउन के चलते रेल यातायात पूरी तरह से प्रभावित था, जो कि अब भारत सरकार ने बड़ा फैसला लेकर ट्रेनों का संचालन 12 मई से शुरू करने की घोषणा की है। रेलवे ने केंद्र सरकार के आदेश के बाद 22 मार्च से अपनी सेवाएं बंद कर दी थीं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: