इयान चैपल ने पल एलबीडब्ल्यू नियम बदलने की मांग की

अकसर DRS के दौरान LBW के फैसलों पर विवाद होते रहते हैं, इनसे बचने के लिए ऑस्ट्रेलियाई के पूर्व कप्तान इयान चैपल (इयान चैपल) ने एक बड़ा सुझाव दिया है

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल (इयान चैपल) ने LBW से जुड़े नियमों में आमूलचूल बदलाव का प्रस्ताव देते हुए कहा है कि अगर गेंद विकेटों से टकरा रही है तो बल्लेबाज को आउट दिया जाना चाहिए फिर चाहे गेंदबाज कहीं भी पिच हो या फिर कोई हो भी लाइन पर आगंतुक से टकराई हो। चैपल ने साथ ही कहा कि कप्तानों को गेंद पर काम करने के एक तरीके पर सहमति बनानी होगी जिससे कि स्विंग गेंदबाजी को प्रोत्साहन मिले। कयास लगाए जा रहे हैं कि कोविड -19 के बाद खेल शुरू होने की स्थिति में आंतरिक क्रिकेट परिषद लार की जगह कृत्रिम पदार्थ के इस्तेमाल की स्वीकृति देने पर विचार कर रहा है।

चैपल के पास LBW नियम हैं

चैपल (इयान चैपल) ने ‘ईएसपीएनक्रिकइंफो’ पर अपने कॉलम में लिखा, ‘नए एलबीडब्ल्यू नियम इस तरह होने चाहिए: कोई भी गेंदबाज अगर बल्ले से टकराए बिना अगर पहले पैड से टकराती है और अंपायर के नजरिये से अगर स्टंप से टकरा रहा है तो। आउट दिया जाना चाहिए, फिर भी खेला शॉट खेला गया या नहीं। ’ उन्होंने कहा, ‘भूल जाइए कि गेंद कहां पक्की हुई और यह पैड से स्टंप की लाइन पर टकराई या नहीं। अगर गेंदबाज स्टंप से टकरा रही है तो आउट दिए जाना चाहिए। ‘

परेशानी होगी!इयान चैपल (इयान चैपल) ने कहा कि LBW के नियमों के बदलाव की उम्मीद के बारे में आगंतुक आलोचना करेंगे, लेकिन इससे खेल में सकारात्मकता आएगी। चैपल ने कहा, ‘निश्चित रूप से इस पर बुटीक हाय-तौबा मचाएंगे लेकिन यह खेल को बदल देता है। सबसे महत्वपूर्ण यह है कि खेल निर्दयी होगा। ‘उन्होंने कहा,’ अगर गेंदबाज नियमित रूप से स्टंप को निशाना बनाने को तैयार है तो बल्लेबाज को सिर्फ बल्ले से अपना विकेट बचाना चाहिए। धोखेबाजों को चोट से बचाने के लिए, बाहर होने से बचाने के लिए नहीं। ‘ चैपल ने कहा, ‘इससे ​​दतों हाथ के आगंतुक के लेग स्टंप के बाहर मुट्ठी के स्पिनर के गेंदबाज़ी प्रदान करने से सामना करने के लिए बल्लेबाजों को आक्रामक रुख अपनाने को बाध्य होना पड़ेगा।’

शेन वॉर्न और सचिन की ‘जंग’ आई याद है

चैपल (इयान चैपल) ने सचिनंदुलकर का उदाहरण दिया जिन्होंने भारत में 1997-98 की श्रृंखला के दौरान शेन वार्न की राउंड द विकेट गेंदबाजी की रणनीति का अच्छी तरह सामना किया था। चैपल ने कहा, ‘1997-98 में चेन्नई में राउंड द विकेट गेंदबाजी कर रहे शेन वॉटन के खिलाफ सचिन तेंदुलकर का आक्रामक और सफल रवैया या फिर लेग स्टंप के आउट पिच के रूप में स्टंप की तरफ आ रही गेंद पर बल्लेबाज का पैर मारना। आप क्या देखना पसंद करेंगे? ‘ उन्होंने कहा, ‘मौजूदा नियम लेग साइड के बाहरी तस्वीर होने वाली गेंदों के खिलाफ पैड से खेलने को प्रोत्साहित करते हैं जबकि यह बदलाव उन्हें अपनी बल्ले का इस्तेमाल करने के लिए बाध्य करेगा। यह बदलाव स्टंप को लक्षित करने वाले सैनिकों सेतों को फायदा देगा और ऑफ साइड में अधिक लोगों के साथ लेग साइड के बाहर नकारात्मक गेंदबाजी की जरूरत को कम करेगा। ‘

खुद को KKR का कर्जदार मानता है कि दुनिया का नंबर वन गेंदबाज है, इस तरह भुगतान करेगा

कोहली से कैच छूटने के बाद धोनी बोले, बेवकूफ किसी और को बनाना, बहुत आया और चला गया

News18 हिंदी सबसे पहले हिंदी समाचार हमारे लिए पढ़ना यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। देखिए क्रिकेट से संलग्न लेटेस्ट समाचार।

प्रथम प्रकाशित: 10 मई, 2020, शाम 4:58 बजे


इस दिवाली बंपर अधिसूचना
फेस्टिव सीजन 75% की एक्स्ट्रा छूट। सिर्फ 289 में एक साल के लिए सब्सक्राइब करें करें डेड कंट्रोल प्रो।कोड कोड: DIWALI ऑफ़र: 10 नवंबर, 2019 तक

->





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: