कोरोना सेंग: भारत में 25 अफ्रीकी देशों को भीमसेन आवश्यक दवाएं हैं

Bytechkibaat7

May 9, 2020 , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,


दवा (प्रतीकात्मक चित्र)
– फोटो: पीटीआई

ख़बर सुनता है

वैश्विक महामारी से विश्व के सभी देश जूझ रहे हैं। इसकी अब तक कोई दवा नहीं बनाई जा सकी है। ऐसे में अफ्रीकी देशों में कोरोना गंभीर रूप धारण ना करे इसके प्रयास तेज हो गए हैं। भारत सरकार ने भी अफ्रीकी देशों में कोरोना की हस्तक्षेप के लिए सहायता आपूर्ति की है।

जानकारी के अनुसार, भारत ने कोरोना संक्रमण से उबरने में कई अफ्रीकी देशों की मदद की है। भारत 25 से अधिक अफ्रीकी देशों को दवाएं भेज रहा है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीती 17 अप्रैल को दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति साइरिल रामफोसा के साथ फोन पर बात की थी। रामफोसा अफ्रीकी संघ के मौजूदा अध्यक्ष भी हैं। फोन पर हुई बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति रामफोसा से कहा था कि दक्षिण अफ्रीका को कोरोना से उबरने में भारत पूरा सहयोग करेगा।

इसके अलावा पीएम मोदी ने युगांडा के राष्ट्रपति योवेरी का गुता मुसेवेनी के साथ भी फोन पर चर्चा की थी। उन्होंने इथियोपिया के प्रधानमंत्री से भी इस सप्ताह बुधवार को बातचीत की है। पिछले महीने विदेश मंत्री ने भी कई अफ्रीकी देशों के विदेश मंत्रियों के साथ चर्चा में कोरोना के खिलाफ जंग में सहयोग देने का भरोसा दिलाया था।

बता दें कि एम्स रायपुर के सहयोग से विदेश मंत्रालय में स्वास्थ्य कर्मियों और अन्य के लिए आयोजित कोरोना संबंधी पाठ्यक्रम को अब अफ्रीका के सभी स्वास्थ्य कर्मियों के लिए उपलब्ध करा दिया गया है।

वैश्विक महामारी से विश्व के सभी देश जूझ रहे हैं। इसकी अब तक कोई दवा नहीं बनाई जा सकी है। ऐसे में अफ्रीकी देशों में कोरोना गंभीर रूप धारण ना करे इसके प्रयास तेज हो गए हैं। भारत सरकार ने भी अफ्रीकी देशों में कोरोना की हस्तक्षेप के लिए सहायता आपूर्ति की है।

जानकारी के अनुसार, भारत ने कोरोना संक्रमण से उबरने में कई अफ्रीकी देशों की मदद की है। भारत 25 से अधिक अफ्रीकी देशों को दवाएं भेज रहा है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीती 17 अप्रैल को दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति साइरिल रामफोसा के साथ फोन पर बात की थी। रामफोसा अफ्रीकी संघ के मौजूदा अध्यक्ष भी हैं। फोन पर हुई बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति रामफोसा से कहा था कि दक्षिण अफ्रीका को कोरोना से उबरने में भारत पूरा सहयोग करेगा।

इसके अलावा पीएम मोदी ने युगांडा के राष्ट्रपति योवेरी का गुता मुसेवेनी के साथ भी फोन पर चर्चा की थी। उन्होंने इथियोपिया के प्रधानमंत्री से भी इस सप्ताह बुधवार को बातचीत की है। पिछले महीने विदेश मंत्री ने भी कई अफ्रीकी देशों के विदेश मंत्रियों के साथ चर्चा में कोरोना के खिलाफ जंग में सहयोग देने का भरोसा दिलाया था।

बता दें कि एम्स रायपुर के सहयोग से विदेश मंत्रालय में स्वास्थ्य कर्मियों और अन्य के लिए आयोजित कोरोना संबंधी पाठ्यक्रम को अब अफ्रीका के सभी स्वास्थ्य कर्मियों के लिए उपलब्ध करा दिया गया है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: