• हम सतह पर डिसइंफेक्टेंट लगाकर तत्काल पाेंछ देते हैं, लेकिन उसे पर्याप्त जब नहीं मिल पाता है
  • अलग-अलग स्प्रे क्लेर और डिसइंफेक्टेंट पर 30 सेकंड से 4 मिनट तक समय लिखा हाेता है

तार पार्स्कर-पीएपी

08 मई, 2020, 12:05 अपराह्न आईएसटी

वॉशिंंगटन। काेरानेवायरस जबसेone बना है, लाएग घर के भीतर हर चीज काे ज्यादा स्प्रे द्वारा और पाएंछप लगे हुए हैं। कई लाएग सतह पर स्प्रे कर एक-दाे बार पाँचे देते हैं, लेकिन इससे किसी भी प्राेडक्ट काे काम करने का पर्याप्त समय नहीं मिल पाता है। अलग-अलग स्प्रे क्लेर और डिसिन इफेक्टेंट पर 30 सेकंड से 4 मिनट तक समय लिखे हाएता है। ऐसे में सफाई का सही तरीका क्या है? बता रहे हैं इंफेक्शियस डिसीज साइंटिस्ट …

1. डिसइंफेक्टेंट जिस देर तक सतह पर टिका रहना चाहिए कि रैग्यूरीयर मर जाएं?

इंफेक्शियस डिसीजेस के इंस्ट्रक्टर डाॅ। फ्रेंच गोेवस्की कहते हैं, े यह जितना अधिक सतह सतह पर लगा रहा है, उतना बेहतर है। प्राॅडक्ट का प्रदर्शन समय जानने के लिए उसका लेबल पढ़ें। यह 30 सेकंड से कुछ मिनट हाे सकता है। कुछ प्रायोगिक सैनिटरीज़ करने का दावा करते हैं, यानी वे बैक्टीरिया के स्तर का कम करते हैं। डिसइंफेक्टेंट के दावे का अर्थ है प्रायोगिक बैक्टीरिया और वायरस दाएनाएंड का खत्म या निष्क्रिय कर देता है।

2. डिसइन्फेक्टेंट के प्रयोग से पहले सतह को साफ करने को कहा जाता है, क्या डे शोधन बार जरूरी है?

यदि सतह पर भाेजन के अवशेष या मैल है ताे डिसइंन्टेंट के इस्तेमाल से पहले कूड़ा-करकट हटाना आवश्यक है।) गंध की परत बने ताए बैक्टीरिया बचे रहेंगे।

3. चार मिनट तक पटेंछना जरूरी है?

माइक्राएबयालेलाजिस्ट हैली ऑलिवर बताती हैं पाँछे (वाइप) काे जापान में टेस्ट किया जाता है ताे उसमें लेखकों पाेंछे से सतह के सूखने तक का समय शामिल हाेता है। उद्देश्य सतह सूखने तक पाँछना हाेता है। सतह जल्द सूखे ताए पहले भी राेक कर सकते हैं।

4. केराएना से बचने के लिए बेहतर क्लेर?

प्राडेक्ट के लेबल से यह पता चल सकता है कि काैन सा क्लीयर वायरस काे मारता है। कायरानावायरस चूंकि नया है इसलिए इससे जुड़ा प्राेडक्ट आने में समय लग सकता है। तब तक अन्य वायरस खत्म करने वाले प्राेडक्ट इस्तेमाल कर सकते हैं। इंफेक्शियस डिसीज विशेषज्ञ डाॅ। डेनियल कुरिट्ज्केस कहते हैं कि ये सिफारिशें व्यापक हैं, जाे केराएना से दुष्कर स्टैफ और स्ट्रेप जैसे बैक्टीरिया काे मारने में लगने वाले समय पर आधारित हैं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: