अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली
अपडेटेड शुक्र, 08 मई 2020 03:33 AM IST

ख़बर सुनता है

दिल्ली में कोरोना की संक्रमण दर राष्ट्रीय स्तर के औसत से दोगुना हो चुकी है। पहले 60 दिनों में राजधानी में 3515 किस्मों को मिला, जबकि बीते छह दिन में 2 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। यानी, एक से छह मई के बीच एक तीन रोगी मिल चुके हैं।

विशेषज्ञों का कहना है कि मौजूदा वक्त में दिल्ली में कोरोना की जांच बेहतर तरीके से हो रही है। दूसरे राज्यों की तुलना में दिल्ली का आंकड़ा ज्यादा है, लेकिन अभी भी यह और बहुत अधिक गति देने की जरूरत है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों की संख्या को बरकरार रखा जा सके।

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, 2 मार्च को पहले संस्थानों को मिला था। तब से लेकर 30 अप्रैल के बीच दिल्ली में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। 30 अप्रैल को दिल्ली में 76 नए रोगी मिले थे, जिनके बाद परिजनों की कुल संख्या 3515 हो गई थी।

मई में हर दिन बड़ी संख्या में रोगी मिल रहे हैं। बीते छह दिनों में 2017 नए रोगी मिल चुके हैं। विभाग के अनुसार, 36.5 प्रति रोगी एक से छह मई के बीच आए हैं। दिल्ली की संक्रमण दर वर्तमान में 8 प्रति हो चुकी है, जो राष्ट्रीय स्तर से लगभग दोगुना है।

दिल्ली की रिकवरी दर में भी बहुत गिरावट आई है। दिल्ली में कोरोना संक्रमण से ठीक होने वाले रोगियों की रिकवरी दर 28 से घटकर 27.87 प्रति दर्ज की गई है, जबकि कोरोना मृत्यु दर 1.17 प्रतिशत है।

कारोना का कहर: दिल्ली पर एक नजर

छह दिन 2017 रोगियों में

  • 1 मई- 223
  • 2 मई -384
  • 3 मई – 427
  • 4 मई -349
  • 5 मई -206
  • 6 मई – 428
  • दिल्ली में 10 लाख की आबादी पर 279 लोग मिल रहे हैं।
  • दिल्ली में 10 लाख की आबादी पर 3630 लोगों की हो रही है जांच।
  • दिल्ली में संक्रमण दर 8 प्रति है, यानी हर दिन 100 में से आठ सैंपल चेतन मिल रहे हैं।
  • दिल्ली में कुल मरीज- 5532
  • ठीक हो गया है -1542
  • मृत्यु – 65
  • वर्तमान में भर्ती -3925
  • अब तक जांच की जा रही है – 71,934
दिल्ली में कोरोना की संक्रमण दर राष्ट्रीय स्तर के औसत से दोगुना हो चुकी है। पहले 60 दिनों में राजधानी में 3515 किस्मों को मिला, जबकि बीते छह दिन में 2 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। यानी, एक से छह मई के बीच एक तीन रोगी मिल चुके हैं।

विशेषज्ञों का कहना है कि मौजूदा वक्त में दिल्ली में कोरोना की जांच बेहतर तरीके से हो रही है। दूसरे राज्यों की तुलना में दिल्ली का आंकड़ा ज्यादा है, लेकिन अभी भी यह और बहुत अधिक गति देने की जरूरत है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों की संख्या को बरकरार रखा जा सके।

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, 2 मार्च को पहले संस्थानों को मिला था। तब से लेकर 30 अप्रैल के बीच दिल्ली में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। 30 अप्रैल को दिल्ली में 76 नए रोगी मिले थे, जिनके बाद परिजनों की कुल संख्या 3515 हो गई थी।

मई में हर दिन बड़ी संख्या में रोगी मिल रहे हैं। बीते छह दिनों में 2017 नए रोगी मिल चुके हैं। विभाग के अनुसार, 36.5 प्रति रोगी एक से छह मई के बीच आए हैं। दिल्ली की संक्रमण दर वर्तमान में 8 प्रति हो चुकी है, जो राष्ट्रीय स्तर से लगभग दोगुना है।

दिल्ली की रिकवरी दर में भी बहुत गिरावट आई है। दिल्ली में कोरोना संक्रमण से ठीक होने वाले रोगियों की रिकवरी दर 28 से घटकर 27.87 प्रति दर्ज की गई है, जबकि कोरोना मृत्यु दर 1.17 प्रतिशत है।

कारोना का कहर: दिल्ली पर एक नजर

छह दिन 2017 रोगियों में

  • 1 मई- 223
  • 2 मई -384
  • 3 मई – 427
  • 4 मई -349
  • 5 मई -206
  • 6 मई – 428
  • दिल्ली में 10 लाख की आबादी पर 279 लोग मिल रहे हैं।
  • दिल्ली में 10 लाख की आबादी पर 3630 लोगों की हो रही है जांच।
  • दिल्ली में संक्रमण दर 8 प्रति है, यानी हर दिन 100 में से आठ सैंपल चेतन मिल रहे हैं।
  • दिल्ली में कुल मरीज- 5532
  • ठीक हो गया है -1542
  • मृत्यु – 65
  • वर्तमान में भर्ती -3925
  • अब तक जांच की जा रही है – 71,934





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: