नई दिल्ली: चीन के वुहान (वुहान) की जापान को पूरी दुनिया ताकत की निगाह से देख रही है। दावा है कि इसी रायपुर से कोरोनावायरस (कोरोनावायरस) पहले चीन में और फिर चीन से पूरी दुनिया में फैल गया। अपनी गलती वैसे तो चीन मानने वाला नहीं, इसीलिए अमेरिका चीन के खिलाफ प्रकरण जांच कर रहा है। इस जांच के बाद चीन परेशान हो गया है और अब उसने मौत को रोकने के लिए बांद्रा वाली अपनी रिलायंस के सबूतों को छिपाना शुरू कर दिया है। चीन ने अपनी शुरुआत वुहान अरब की वेबसाइट से महत्वपूर्ण बदलाव और फोटो हटाकर की है।

दुनिया भर में कोरोना फैलाने वाले चीन पर दबाव बढ़ रहा है। अमेरिका ने वुहान की रिलायंस की जांच करने में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है और यही कारण है कि घबराए और तिलमिलाए चीन ने अब वुहान उद्योग से कोरोना के लीक होने के सबूतों को मिटाना तेज कर दिया है।

चीन ने सबसे पहले वुहान की उस गांव से सबूत को हटाना शुरू कर दिया है, जहां से कोरोना के फैलने का दावा दुनिया के कई मुल्क कर रहे हैं। चीन ने वुहान अरब की वेबसाइट से कई तस्वीरों को हटा दिया है।

चीन ने जिन तस्वीरों को बचाया, उसमें क्या दिख रहा था
– वुहान जापान में चीन के वैज्ञानिकों के बिना किसी सुरक्षा उपकरण के काम करने वाली तस्वीर को चीन ने वेबसाइट से हटा दिया।
– वुहान इंस्टीट्यूट आफ वायरोलॉजी से जिन तस्वीरों को बचाया गया है उनमें से कुछ तस्वीरों में वुहान इंस्टीट्यूट का स्टाफ बिना किसी सुरक्षा किट के गुफाओं में जाकर चमगादड़ों को पकड़ता नजर आ रहा है। इस तस्वीर में स्टॉफ के पास फ़ंक्शन और ग्लब्स तक नहीं हैं।
– वुहान जापान के वैज्ञानिक जंगलों में भी चमगादड़ों को पकड़ने जाते थे, लेकिन इस दौरान भी लापरवाही बरती जाती थी। इससे जुड़ी तस्वीर भी बेवसाइट से हटा दी गई है।
– चीन ने वुहान इंस्टीट्यूट आफ वायरोलॉजी से उस तस्वीर को भी हटा दिया है, जिसमें कोरोना जैसे 1500 घातक वायरस को स्टोर करने वाले फ्रिज को दिखाया गया था।

ये भी देखें…।

चीन ने वेबसाइट से और भी कई बदलाव हटाये हैं
अमेरिकी वैज्ञानिको के दौरे से जुड़ी जानकारियों को हटा दिया गया। मार्च 2018 में अमेरिकी दूतावास के वैज्ञानिक रिक स्विटजर ने इस बीजिंग में विजेट किया था। इस दौरे के बाद स्विटजर ने अमेरिका के विदेश वजीत को चेतावनी भरा संदेश भेजा था। इस संदेश में स्विटजर ने कहा था कि इस रिलायंस में पेपर लोगों की भारी कमी है। यानि अमेरिकी वैज्ञानिकों ने पहले ही इस बात की चेतावनी दे दी थी कि रायपुर में कभी भी कुछ भी हो सकता है। इन सभी चित्रों के बाद वुहान उद्योग शक्ति के घेरे में आ गया था और अमेरिका के उस दावे को दृढ़ मिल रहा था जिसमें बार बार कहा जा रहा है कि कोरोना वायरस वुहान उद्योग से लीक हुआ।

ब्यूरो रिपोर्ट, ज़ी मीडिया





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *