नई दिल्ली। कोरोनावायरस महामारी (कोरोनवायरस वायरस महामारी) से निपटने के लिए 17 मई तक देशव्यापी लॉकडाउन जारी किया गया है। लॉकडाउन के चलते कामकाज बंद है और लोग अपने घर के अंदर कैद हैं। लॉकडाउन में घर बैठे बिजनेस करने की सोच रहे हैं तो आप एग्जॉटिक वेजिटेबल बटनरूम (बटन मशरूम) कर खेती कर सकते हैं। आजकल YouTube से रसिपी सीखकर बनाने वाले शौकियां शेफ की तादाद भी बढ़ी है, जिससे बटन मशरुम की मांग बढ़ गई है।

बटन मशरुम, एक ऐसा जाता है जिसमें मिआर्नल्स और विट्टामी काफी मात्रा में होता है। दूल्हा स्वास्थ्य बेनेफिट्स की वजह से सेलुलर हो रही है। बाजार में इसकी कीमत 300 से 350 रुपए है जो कि है और थोक का रेट लगभग 40% तक कम होता है। यह मिल बटन मशरुम फार्मिंग होने के ठीक भाव के कारण कई किसानों ने गंभीर रूप से खेती को छोड़कर मशरूम उगाना शुरू कर दिआ है।

50 हजार रुपये में होगी शुरुआत-कम्पोइस्ट मेकर किपर बटनरूम की खेती की जा सकती है। एक क्विंटल कम्पोस्ट में डेढ़ो बीज लगते हैं।

4 से 5 क्विंटल कंपोवादी बनाकर लगभग 2000 कि एलो मशरूम पैदा हो जाता है। अब २००० कि अगर कोई १५० रुपये एक किलो के हिज़ से भी बिगाती है तो लगभग ३ लाख रुपए मि लिलेट ।इसमेंट से ५० हजार रुपए लागत के तौर पर निशिकाल दें तो भी ढाई लाख रुपए बचते हैं, हालांकि इसकी लागत ५० हजार से भी कम है। आता है। प्रति वर्ग मीटर 10 कि एलोग्राम शोरूम आराम से पैदा हो जाता है।

ये भी पढ़ें: अक्षय तृतीया २०२०: यहां बिकता है एक रुपए का २४ कैरेट का सोना, घर में बैठना

खेती करने का ये तरीका है-कम से कम 40 बाई 30 फुट की जगह में तीन तीन फुट चौड़ी रैक बनाकर मशरूम उगाए जा सकता है।

कंपोस्ट बनाने के लिए धान की पुलाल को भिगो दें और एक दिगम्बर के बाद डीएपी, यूरिया, पोटाश, गेहूं का चोकर, जिहपसम, कैलाशिम और कार्बो फ्यूडा मिचला कर इसे सड़ने के लिय छोड़ दें।

लगभग 45 दिन के बाद खाद तैयार होती है। अब गोबर की खाद और मिताती को बराबर मात्रा में मिलाकर लगभग डेढ़ इंच मोटी परत बिचार कर ऊपर कंपोस्टरों की दो से तीन इंच मोटी परत चढ़ाएं हैं।

इसमें नमी बरकरार रहती है इसलिए शप्रे से शोरूम पर खुदाई के दो से तीन बार छिडी विनाश करें। इसके ऊपर एक दो इंच मोटी कंपोस्टिक की परत और चढ़ा दें।

यहाँ से ले सकते हैं प्रशिक्षण- सभी एग्रीकल्लचर यूनिवर्सि और कृषि अनुसंधान केंद्रों में मशरूम के खेती की प्रशिक्षण दी जाती है। अगर आप इसी तरह बड़े पैमाने पर खेती करने की योजना बना रहे हैं तो बेहतर होगा कि एक बार इसके सही तरीके से प्रशिक्षण जरूर लें।

ये भी पढ़ें:लॉकडाउन के बीच आपका बैंक मुफ्त में दे रहे हैं ये तीन सेवा, जानिए इनके बारे में सबकुछ

इस भारतीय शख्स को मिलती है दुनिया में सबसे ज्यादा सैलरी, हर दिन कमाते हैं 5.4 करोड़ रुपये





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: