न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
अपडेटेड सन, 03 मई 2020 09:45 पूर्वाह्न IST

कोरोना मार्टिस के सम्मान में पुष्पवर्षा करती है वायुसेना
– फोटो: एएनआई

ख़बर सुनता है

देश में को विभाजित -19 जैसे अदृश्य दुश्मन से अग्रिम पंक्ति में खड़े होकर लड़ने वाले राजकुमारियों को आज देश की सशस्त्र सेना अनोखे तरीके से सम्मान दे रही हैं। भारतीय वायुसेना ने सुखोई जैसे लड़ाकू विमान के माध्यम से देश के अलग-अलग हिस्सों में स्थित कोरोनावायरस अस्पतालों के ऊपर फूल नर्सिंगाने शुरू कर दिए हैं। भारतीय सेना इन अस्पतालों के पास अपनी धुन से कोरोना मार्टों का हौसला बढ़ाएगी। वहीं नौसेना अपने जहाजों को रोशन करके कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जीत दर्ज करने का संदेश देगी।

डल झील के ऊपर फ्लाईपास्ट करती वायुसेना
वायुसेना के परिवहन विमान रविवार सुबह 7.52 बजे जम्मू कश्मीर की डल झील के ऊपर से फ्लाईपास्ट करते हुए दिखाई दिए। इसके बाद सुबह 8.55 पर चंडीगढ़ में सुखना झील से होते हुए गुजरे। इसके अलावा वायुसेना के विमान सुबह 10.15 बजे दिल्ली में राजपथ, राजस्थान में जलमहल, मध्यप्रदेश के भोपाल में बड़ा तालाब, महाराष्ट्र में मुंबई का मरीन ड्राइव, हैदराबाद में हुसैन सागर झील, बंगलूरू में कर्नाटक विधानसभा, केरल, त्रिवेंद्रम में सचिवालय के ऊपर और तमिलनाडु में सुलूर, कोयम्बटूर के आसमान में गोते लगाते हुए दिखेंगे।

गेटवे ऑफ इंडिया पर रोशनी 5 नौसैनिक बर्तन होगी

  • कर्नल आनंद के मुताबिक, पश्चिमी नौसेना कमान के 5 नौसोनिक स्टोर शाम को 7.30 बजे से रात 11.59 बजे तक मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया पर रोशनी करेंगे। ये चरण ’इंडिया सैल्यूट्स कोरोना वेरियर्स’ के बैनर लहराएंगे की तरह।
  • शाम 7.30 बजे अपने साइरन बजाने के साथ ही फायर फ्लेयर भी छोड़ देंगे। इसके अलावा गो का नौसेना एयरिस्टिक्स अपने रनवे पर एक मानव श्रृंखला बनाकर कोरोना राजकुमारियों को सम्मान देंगे। विशाखापत्तनम के तट पर भी दो नौसैनिक मंदिर शाम 7.30 बजे रोशनी करेंगे।

तटरक्षक बल के पोत भी 24 जगह करेंगे गतिविधि

तटरक्षक बल के स्टोर भी पोरबंदर, ओखा, रत्नागिरी, दहाड़ू, मुरुड, गो, न्यू मंगलूरू, कावाराती, करईकल, चेन्नई, पुदुचेचेरी, काकीनाड़ा, पारमनप, सागर द्वीप, पोर्ट ब्लेयर, दिग्लीपुर, माण्डिंदर, हतौ-बे सहित 24 स्थानों पर पहुँचेंगे। ।

देश में को विभाजित -19 जैसे अदृश्य दुश्मन से अग्रिम पंक्ति में खड़े होकर लड़ने वाले राजकुमारियों को आज देश की सशस्त्र सेना अनोखे तरीके से सम्मान दे रही हैं। भारतीय वायुसेना ने सुखोई जैसे लड़ाकू विमान के माध्यम से देश के अलग-अलग हिस्सों में स्थित कोरोनावायरस अस्पतालों के ऊपर फूल नर्सिंगाने शुरू कर दिए हैं। भारतीय सेना इन अस्पतालों के पास अपनी धुन से कोरोना मार्टों का हौसला बढ़ाएगी। वहीं नौसेना अपने जहाजों को रोशन करके कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जीत दर्ज करने का संदेश देगी।

डल झील के ऊपर फ्लाईपास्ट करती वायुसेना

वायुसेना के परिवहन विमान रविवार सुबह 7.52 बजे जम्मू कश्मीर की डल झील के ऊपर से फ्लाईपास्ट करते हुए दिखाई दिए। इसके बाद सुबह 8.55 पर चंडीगढ़ में सुखना झील से होते हुए गुजरे। इसके अलावा वायुसेना के विमान सुबह 10.15 बजे दिल्ली में राजपथ, राजस्थान में जलमहल, मध्यप्रदेश के भोपाल में बड़ा तालाब, महाराष्ट्र में मुंबई का मरीन ड्राइव, हैदराबाद में हुसैन सागर झील, बंगलूरू में कर्नाटक विधानसभा, केरल, त्रिवेंद्रम में सचिवालय के ऊपर और तमिलनाडु में सुलूर, कोयम्बटूर के आसमान में गोते लगाते हुए दिखेंगे।

गेटवे ऑफ इंडिया पर रोशनी 5 नौसैनिक बर्तन होगी

  • कर्नल आनंद के मुताबिक, पश्चिमी नौसेना कमान के 5 नौसोनिक स्टोर शाम को 7.30 बजे से रात 11.59 बजे तक मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया पर रोशनी करेंगे। ये चरण ’इंडिया सैल्यूट्स कोरोना वेरियर्स’ के बैनर लहराएंगे की तरह।
  • शाम 7.30 बजे अपने साइरन बजाने के साथ ही फायर फ्लेयर भी छोड़ देंगे। इसके अलावा गो का नौसेना एयरिस्टिक्स अपने रनवे पर एक मानव श्रृंखला बनाकर कोरोना राजकुमारियों को सम्मान देंगे। विशाखापत्तनम के तट पर भी दो नौसैनिक मंदिर शाम 7.30 बजे रोशनी करेंगे।

तटरक्षक बल के पोत भी 24 जगह करेंगे गतिविधि

तटरक्षक बल के स्टोर भी पोरबंदर, ओखा, रत्नागिरी, दहाड़ू, मुरुड, गो, न्यू मंगलूरू, कावाराती, करईकल, चेन्नई, पुदुचेचेरी, काकीनाड़ा, पारमनप, सागर द्वीप, पोर्ट ब्लेयर, दिग्लीपुर, माण्डिंदर, हतौ-बे सहित 24 स्थानों पर पहुँचेंगे। ।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: