सूरत में प्रवासी मजदूरों और पुलिस के बीच झड़प हुई
– फोटो: एएनआई

ख़बर सुनता है

लॉकडाउन के कारण दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूर लगातार अपने घर वापसी की मांग कर रहे हैं। इस बीच गुजरात के सूरत में प्रवासी मजदूरों और पुलिस के बीच झड़प हो गई है। सूरत में सोमवार को पुलिस के ऊपर प्रवासी मजदूरों ने पत्थर बरसाए। जिसके बाद पुलिस ने उन लोगों पर जवाबी कार्रवाई करते हुए स्थिति को नियंत्रण में लेने का प्रयास किया और आंसू गैस के गोलेबंदी को नियंत्रित किया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सूरत के कदोडरा इलाके में रहने वाले मजदूर कई दिनों से घर जाने की मांग कर रहे हैं। प्रशासन बार-बार उन्हें भरोसा दे रहा था, लेकिन आज मजदूरों ने आपा खो दिया और घरों से बाहर निकलकर हंगामा करने लगे। मजदूरों ने आस-पास खड़ी गाड़ियों में तोड़फोड़ भी की।

कोरोनावायरस के कारण तीसरी बार लॉकडाउन बढ़ने के बाद इन प्रवासियों की मांग थी कि उन्हें अब अपने पैतृक स्थान पर भेजा जाएगा। मामला इतना बढ़ गया कि स्थिति संभालने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े हैं। घटना में किसी के घायल होने की खबर नहीं है। विवाद की वजह का अभी भी पता नहीं चल रहा है।

लॉकडाउन के कारण दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूर लगातार अपने घर वापसी की मांग कर रहे हैं। इस बीच गुजरात के सूरत में प्रवासी मजदूरों और पुलिस के बीच झड़प हो गई है। सूरत में सोमवार को पुलिस के ऊपर प्रवासी मजदूरों ने पत्थर बरसाए। जिसके बाद पुलिस ने उन लोगों पर जवाबी कार्रवाई करते हुए स्थिति को नियंत्रण में लेने का प्रयास किया और आंसू गैस के गोलेबंदी को नियंत्रित किया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सूरत के कदोडरा इलाके में रहने वाले मजदूर कई दिनों से घर जाने की मांग कर रहे हैं। प्रशासन बार-बार उन्हें भरोसा दे रहा था, लेकिन आज मजदूरों ने आपा खो दिया और घरों से बाहर निकलकर हंगामा करने लगे। मजदूरों ने आस-पास खड़ी गाड़ियों में तोड़फोड़ भी की।

कोरोनावायरस के कारण तीसरी बार लॉकडाउन बढ़ने के बाद इन प्रवासियों की मांग थी कि उन्हें अब अपने पैतृक स्थान पर भेजा जाएगा। मामला इतना बढ़ गया कि स्थिति संभालने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े हैं। घटना में किसी के घायल होने की खबर नहीं है। विवाद की वजह का अभी भी पता नहीं चल रहा है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: