• भविष्य में क्या करें और क्या न करें, इसकी भी प्लानिंग आसान हो जाती है।
  • आप एक काम को नए और अनुकूल तरीके से करने के बेहतर विकल्प भी खोज पाते हैं।

दैनिक भास्कर

03 मई, 2020, रात 02:18 बजे IST

नई दिल्ली। बायो डिग्रेडेबलबल पॉलिम बनाने वाली कंपनी के मालिक अरहान ने जब अपने बिजनेस की बैलेंस शीट देखी तो उन्हें पता चला कि उनकी कंपनी साल-दर-साल-सिकुड़ रही थी और साल में 12 करोड़ रुपए के बिजनेस से उतरकर 2 करोड़ पर पहुंच गई थी। दरअसल, अरहान की कंपनी विदेशी कंपनियों पर ज्यादा निर्भर थी, लेकिन हाल के कुछ सालों में उन कंपनियों का रुझान खुद का उत्पादन बढ़ाने पर था। यही कारण था कि अरहान का व्यवसाय घट रहा था।

इससे अवसर में बदलाव हो सकते हैं
इस रिव्यू के बाद अरहान को यह भी पता चला कि कई रिफंड अभी भी मिलने बाकी हैं। अरहान ने इस रिव्यू के बाद अपने बिजनेस पोर्टफोलियो को डायवर्सिफाई किया। साथ ही उनकी टीम ने घरेलू बाजार में संभावनाएं भी तलाशना शुरू कीं। उन देशों में भी बाजार में, जहां अभी भी उनका उत्पाद इम्पोर्ट हो रहा था। साथ ही पुराने बाजार में लोकल प्रोडक्शन यूनिट की भी स्थापना की। इससे जो कठिनाइयों का सामना करना पड़ा, वे अवसर में बदल गए।)

रिव्यू में जो निष्कर्ष निकलता है, उसी आधार पर भविष्य की योजनाएं बनाएं
अरहान की तरह आप भी अपने घर का खर्च और बिजनेस की बैलेंस शीट का रिव्यू कर सकते हैं। लॉकडाउन से बेहतर समय इसके लिए शायद फिर आपको न मिले। रिव्यू में जो निष्कर्ष बाहर निकलता है, उसी आधार पर भविष्य की योजनाएं बनाएं। बात घर की हो या व्यवसाय की, अपने मौजूदा खर्चों को देखें और उन्हें गैरजरूरी खर्चों को कम करें। इससे आपको अपनी बचत बढ़ाने में मदद मिलेगी। ऐसा करने से आप मौजूदा के साथ-साथ पहले के वित्तीय लेनदेन से भी नई सीख लेकर आगे बढ़ सकते हैं।

रिव्यू हर सफलता का राज
यदि आप सफल बनना चाहते हैं तो मौजूदा समय का इस्तेमाल करते हुए अपनी बैलेंस शीट का तुलनात्मक अध्ययन करें और सीखने की कोशिश करें। जब आप रिव्यू करते हैं, तब आप इस पूरी प्रक्रिया में अपने दिमाग में एक छवि बनती हैं जिससे आप परिस्थितियों को नए नजरिए से दूर पाते हैं। आपको हर वित्तीय सफलता और असफलता के कारण खुद-ब-खुद समझ में भी आने वाले लगते हैं। साथ ही भविष्य में क्या करें और क्या न करें, इसकी भी प्लानिंग आसान हो जाती है। रिव्यू करने के दौरान उसे सीखने का मौका भी मिलता है जिसके कारण आप अपना ध्यान पूरे सिस्टम को बेहतर बनाने पर केंद्रित कर पाते हैं जो आपके मूल विजन को और पैना करता है। जब विजन मजबूत होता है तो व्यक्ति का मोटिवेशन और काम करने की ताकत बढ़ जाती है। आप एक काम को नए और अनुकूल तरीके से करने के बेहतर विकल्प भी खोज पाते हैं।

कैसे करें संशोधन

  • पुराने और अभी के व्यवसाय रिजल्ट की तुलना करें, अंतर के कारणों का अध्ययन करें।
  • पुरानी अच्छी आदतें पहचानें, उन्हें बेहतर बनाती हैं।
  • साल-दर-साल किए गए खर्च को सामने रखें।
  • मौजूदा और पुराने बैलेंस शीट की तुलना से ये समझें कि कौन सा खर्च जरूरी या गैर-जरूरी था।
  • आवश्यक खर्च में क्या खर्च और बढ़ाने से लाभ बढ़ सकता है, सोच सकता है।
  • क्या गैरजरूरी खर्च को कम करके जरूरी खर्च को बढ़ाया जा सकता है, सोचें।
  • गैरजरूरी खर्चों पर विचार करें कि ये क्यों हो रहे हैं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: