न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
अपडेटेड सन, 03 मई 2020 03:27 PM IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
– फोटो: ट्विटर

ख़बर सुनता है

जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंक-रोधी अभियान के दौरान पांच अधिकारियों सहित पांच जवानों के शहीद होने पर रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त किया। पीएम मोदी ने कहा कि जवानों की वीरता और बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, ‘हंदवाड़ा में शहीद हुआ हमारे साहसी सैनिकों और सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि। उनकी वीरता और बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा। उन्होंने राष्ट्र के लिए अत्यंतप्रधान के साथ काम किया और हमारे नागरिकों की रक्षा के लिए अथक परिश्रम किया। उनके परिवारों और दोस्तों के प्रति संवेदना। ‘

यह घटना बेहद परेशान करने वाली है और दर्द भरा है: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शोक व्यक्त करते हुए इसे ‘बेहद परेशान करने वाला और दर्द भरा’ करार दिया। रक्षा मंत्री ने कहा कि युवाओं ने आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में साहस की मिसल पेश की और उनकी बहादुरी और संघर्ष को हमेशा याद रखा।

रक्षा मंत्री ने ट्वीट किया, ‘हंदवाड़ा में हमारे जवानों और सुरक्षाकर्मियों की क्षति बेहद परेशान करने वाली और दर्द भरी है। में उसने आंतकवादियों के खिलाफ अदम्य साहस दिखाया और देश सेवा में बड़ा बलिदान दिया। हम इनकी साहसुरी और संघर्ष को कभी भुला नहीं पाएंगे। ‘

सिंह ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए अपने परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने यह भी कहा कि भारत वीर शहीदों के परिवारों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है।

आतंकवादियों के खात्मे को लेकर सुरक्षा बलों को उनकी वीरता पर गर्व: जनरल रावत
वहीं, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि हंदवाड़ा में हुई मुठभेड़ कश्मीर के लोगों की जिंदगियों को सुरक्षित रखने के सुरक्षा बलों के दृढ निश्चय को दर्शाती है। जनरल रावत ने कहा, ‘आतंकवादियों के खात्मे को लेकर सुरक्षा बलों को उनकी वीरता पर गर्व है। हम इन वीर जवानों को सलाम करते हैं और शोकाकुल परिवारों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करते हैं।) वहीं, सेना ने एक ट्वीट में कहा कि सेना प्रमुख एमएम नरवणे और सेना के सभी रैंक के अधिकारियों ने सेना और पुलिस के जवानों को आतंकवादियों से लड़ने वाले हुए शहीद होने पर श्रद्धांजलि अर्पित की है।

सेना के अधिकारियों ने कहा कि आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में कर्नल आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद के अलावा नायक राजेश कुमार, लांसटेक दिनेश और जम्मू-कश्मीर पुलिस के उपनिरीक्षक शकील काजी भी शहीद हो गए हैं। कर्नल शर्मा 21 राष्ट्रीय राइफल्स के स्नैंडिंग ऑफिसर थे और उन्हें कश्मीर में दो बार वीरता पदक से सम्मानित किया जा चुका था।

जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंक-रोधी अभियान के दौरान पांच अधिकारियों सहित पांच जवानों के शहीद होने पर रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त किया। पीएम मोदी ने कहा कि जवानों की वीरता और बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, ‘हंदवाड़ा में शहीद हुआ हमारे साहसी सैनिकों और सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि। उनकी वीरता और बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा। उन्होंने राष्ट्र के लिए अत्यंतप्रधान के साथ काम किया और हमारे नागरिकों की रक्षा के लिए अथक परिश्रम किया। उनके परिवारों और दोस्तों के प्रति संवेदना। ‘

यह घटना बेहद परेशान करने वाली है और दर्द भरा है: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शोक व्यक्त करते हुए इसे ‘बेहद परेशान करने वाला और दर्द भरा’ करार दिया। रक्षा मंत्री ने कहा कि युवाओं ने आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में साहस की मिसल पेश की और उनकी बहादुरी और संघर्ष को हमेशा याद रखा।

रक्षा मंत्री ने ट्वीट किया, ‘हंदवाड़ा में हमारे जवानों और सुरक्षाकर्मियों की क्षति बेहद परेशान करने वाली और दर्द भरी है। में उसने आंतकवादियों के खिलाफ अदम्य साहस दिखाया और देश सेवा में बड़ा बलिदान दिया। हम इनकी साहसुरी और संघर्ष को कभी भुला नहीं पाएंगे। ‘

सिंह ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए अपने परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने यह भी कहा कि भारत वीर शहीदों के परिवारों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है।

आतंकवादियों के खात्मे को लेकर सुरक्षा बलों को उनकी वीरता पर गर्व: जनरल रावत
वहीं, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि हंदवाड़ा में हुई मुठभेड़ कश्मीर के लोगों की जिंदगियों को सुरक्षित रखने के सुरक्षा बलों के दृढ निश्चय को दर्शाती है। जनरल रावत ने कहा, ‘आतंकवादियों के खात्मे को लेकर सुरक्षा बलों को उनकी वीरता पर गर्व है। हम इन वीर जवानों को सलाम करते हैं और शोकाकुल परिवारों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करते हैं।) वहीं, सेना ने एक ट्वीट में कहा कि सेना प्रमुख एमएम नरवणे और सेना के सभी रैंक के अधिकारियों ने सेना और पुलिस के जवानों को आतंकवादियों से लड़ने वाले हुए शहीद होने पर श्रद्धांजलि अर्पित की है।

सेना के अधिकारियों ने कहा कि आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में कर्नल आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद के अलावा नायक राजेश कुमार, लांसटेक दिनेश और जम्मू-कश्मीर पुलिस के उपनिरीक्षक शकील काजी भी शहीद हो गए हैं। कर्नल शर्मा 21 राष्ट्रीय राइफल्स के स्नैंडिंग ऑफिसर थे और उन्हें कश्मीर में दो बार वीरता पदक से सम्मानित किया जा चुका था।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *