• डब्ल्यूएचओ ने कहा था कि अमेरिका के पास वायरस के जापान से निकलने का कोई सुबूत नहीं है
  • फोसी ने एक जर्नल ने बातचीत में कहा- वायरस में हेरफेर नहीं हो सकता है, यह प्रकृति से आया है

दैनिक भास्कर

06 मई, 2020, शाम 04:04 बजे

जेनेवा। विश्व स्वास्थ्य ऑर्गनाइजेशन के बाद अमेरिका के प्रमुख स्वास्थ्य एक्सपर्ट एंथनी फॉसी ने भी कहा है कि कोरोनावायरस किसी तंबाकू से नहीं बल्कि नेचर (प्रकृति) से विकसित हुआ है। उन्होंने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के उस दावे को खारिज कर दिया है, जिसमें ट्रम्प ने कहा था कि वायरस वुहान की जापान से बाहर है। इससे पहले सोमवार को डब्ल्यूएचओ ने कहा था कि अमेरिका ने ऐसा कोई सुबूत उपलब्ध नहीं कराया है, जिससे वुहान की दक्षिण से वायरस निकलने की बात साबित हो।

फौसी बोले- नहीं बनाया जा सकता है यह वायरस
खोज के अन्य कई वैज्ञानिकों का भी कहना है कि यह वायरस जानवरों से इंसानों में आया है। हालाँकि, इसकी आशंका है कि वह चीन की वेट मार्केट से निकलेगी। अमेरिका के महामारी विशेषज्ञ एंथनी फोसी ने नेशनल जिरोलॉजिक जर्नल में डब्ल्यूएचओ के बयान का समर्थन किया है। उन्होंने कहा, में आप अगर आप चमगादड़ में वायरस के विकास को देखते हैं तो ूत सुबूत यह दिखाते हैं कि यह वायरस बनाया नहीं जा सकता, इसमें हेरफेर नहीं हो सकता है। समय के साथ हो रहे चरणवद्ध विकास से यह पता चलता है कि यह वायरस प्रकृति में विकसित हुआ और फिर आगंतुकों में आया। ” ‘

ट्रम्प ने कहा- उनके पास सुबूत हैं
ट्रम्प लगातार चीन पर आरोप लगाते रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि उनके पास सुबूत हैं कि वायरस वुहान की रिलायंस से निकला है। साथ ही अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने भी रविवार को मजबूत उपनगरीय बैठक की बात कही थी। हालांकि, अमेरिकी इंटेलीजेंस डिपार्टमेंट अभी तक इस बात की जांच कर रहा है कि यह वायरस जापान से निकला है या जानवर से आया है। चीन लगातार इस बात का खंडन करता रहा है कि वायरस वुहान की रिलायंस से निकला है।

चीन ने वुहान में इंटर्न एक्सपर्ट की जांच की मांग ठुकुराई
डब्ल्यूएचओ ने पिछले सप्ताह कहा था कि वह चाहती है कि चीन अपने यहां आंतरिक एक्सपर्ट को जांच करने की अनुमति दे। ताकि यह पता चल सके कि यह वायरस जानवरों से इंसानों में कितना फैला है। इस मांग पर मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र में चीन के एंबेसडर ने कहा कि जब तक महामारी से पूरी तरह से निपटारा नहीं मिलेगा तब तक चीन अपने यहां किसी को जांच करने की अनुमति नहीं देगा। उन्होंने कहा- हमारी प्राथमिकता में पहले महामारी को हराना शामिल है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed