• रोहित शर्मा ने तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी से सोशल मीडिया पर लाइव चैट के दौरान यह बात कही
  • भारतीय वनडे टीम के उपकप्तान के मुताबिक, बल्लेबाजों को टाइमिंग हासिल करने में डेढ़ महीने का वक्त लगेगा
  • शमी ने इंटर्न क्रिकेट में बदलाव से पहले नेशनल क्रिकेट एकेडमी में 1 महीने का प्रशिक्षण शिविर लगाने का सुझाव दिया

दैनिक भास्कर

06 मई, 2020, 09:14 AM IST

भारतीय वनडे टीम के उप-कप्तान रोहित शर्मा ने कहा है कि लॉकडाउन के बाद बल्लेबाजों की मैदान पर वापसी आसान नहीं होगी। उन्होंने तेज गेंदबाजों मोहम्मद शमी से सोशल मीडिया पर लाइव चैट के दौरान यह बात कही।
रोहित ने कहा कि पीटरसन को पुराने लय और टाइमिंग हासिल करने में कम से कम डेढ़ महीने लगेगा। सप्ताह आई कोऑर्डिनेशन बल्लेबाजी का महत्वपूर्ण पहलू है। ऐसे में आगंतुक को गेंद की नली के साथ तालमेल बैठाने में जब लगेगा।

दानवों को लय हासिल करने में बहुत जल्द लगेगा: रोहित
भारत के इस सलामी बल्लेबाज ने शमी से कहा कि गेंदबाजों की तुलना में बल्लेबाजों के लिए आंतरिक क्रिकेट में वापसी ज्यादा चुनौतीपूर्ण होगी। क्योंकि दानवों को प्रैक्टिस के लिए बहुत जल्द होना चाहिए। वे 3 महीने से ज्यादा समय से मैदान से दूर हैं। इस दौरान उन्होंने बल्ले को हाथ तक नहीं लगाया। ऐसे में दोबारा लय हासिल करना उनके लिए बहुत मुश्किल होगा।

‘गेंदबाज शारीरिक रूप से तैयार रहेंगे’
तेज गेंदबाज होने के बाद भी शमी टीम के उप कप्तान की बात से सहमत नजर आए। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के बावजूद तेज गेंदबाज वर्कआउट पर ध्यान दे रहे हैं। वे ट्रेडमिल पर भी दौड़ रहे हैं। इससे हमें शरीर के निचले हिस्से को मजबूत बनाए रखने में मदद मिलेगी। कोरोना के बाद जब क्रिकेट की दोबारा शुरुआत होती है तो हमें बस गेंद छोड़ते वक्त पाठक की सही पोजीशन पर ही काम करना होगा और इसे हासिल करने में 10 से 15 दिन का वक्त ही लगेगा।

एनसीए में 1 महीने का प्रशिक्षण शिविर हो: शमी

शमी ने कहा कि लॉकडाउन के बाद क्रिकेट मैदान पर वापसी से पहले राष्ट्रीय क्रिकेट एकेडमी यानी एनसीए में एक महीने का प्रशिक्षण शिविर होना चाहिए। इस बारे में मैंने आशीष भाई (आशीष नेहरा) से भी बात की है कि जैसे ही लॉकडाउन खत्म हो, हम एनसीए में प्रशिक्षण शिविर शुरू करें। इससे हम लय हासिल करने में तो मदद मिलेगी ही और यह भी पता लगाया जा सकेगा कि कोई गेंदबाज चोटिल तो नहीं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *