ख़बर सुनता है

यूरोप के लिए अच्छी खबर है कि यहां कोरोना महामारी का प्रभाव कम होने लगा है लेकिन बुरी खबर यह है कि यूरोपीय आयोग के नए पूर्वानुमान में 7.4 प्रतिशत का आर्थिक पतन बताया गया है। उधर, लॉकडाउन खुलने से वायरस के लहर चलने की आशंका भी है। जबकि यदि ब्रिटेन, इटली, स्पेन, फ्रांस में संक्रमण के मृतकों का आंकड़ा जोड़ दें तो यूरोपीय संघ में मरने वाले अमेरिका से ज्यादा हो चुके हैं।

इटली और जर्मनी में पिछले कुछ हफ्तों के मुकाबले मौतों की संख्या में कमी आई है। लेकिन अब तक अमेरिका के मुकाबले यूरोपीय संघ (ईयू) में मृतक आंकड़ा काफी ऊपर जा चुका है। जबकि ईयू के सामने दूसरी भीषण चुनौती आर्थिक मंदी की है। यूरोपीय आयोग द्वारा जारी ताजा अनुमान के मुताबिक, यूरोप की अर्थव्यवस्था इस साल 7.4 प्रतिशत तक सिकुड़ जाएगी।

एक शीर्ष अधिकारी ने यूरोपीय संघ के निवासियों से कहा, पहली बार द्वितीय विश्व युद्ध के बाद अपने इतिहास में सबसे गहरी आर्थिक मंदी की आशंका के लिए वे कमर कस लें। उधर, ब्रिटेन में अब तक संक्रमण से 29,427 मौतें हुई हैं जबकि इटली में 29,315, स्पेन में 25,857, फ्रांस में 25,531 लोग मारे गए हैं। अकेले इस संख्या को मिलाने मात्र से यह अमेरिका में कुल मौतों से आगे हो जाता है। जबकि ईयू के कई देशों में मौत का सिलसिला जारी है।

कोविद -19 के कारण ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था 1,706 के बाद तीन शताब्दी (300 वर्ष) से ​​ज्यादा समय के निचले स्तर पर पहुंच जाएगी। बैंक ऑफ इंग्लैंड ने चेतावनी दी है कि 2021 में सुधार से पहले 2020 की पहली तिमाही में देश की अर्थव्यवस्था का कुल आकार 30 प्रति और इस साल के अंत तक 14 प्रति घट जाएगा।

रोजगार के मोर्चे पर बैंक ऑफ इंग्लैंड ने कहा, ब्रिटेन में बेरोजगारी दोगुना बढ़कर 9 प्रतिशत हो जाएगी। इसमें 60 लाख उन कर्मचारियों का आंकड़ा शामिल नहीं है, जिन्हें सरकार की योजना रोजगार सुरक्षा योजना ’के तहत कई कंपनियों ने नौकरी से निकाला है। योजना के तहत ब्रिटेन की सरकार इन कर्मचारियों के वेतन का 80 प्रति स्वयं दे रही है।

ब्रिटेन की केंद्रीय बैंक ने कहा, लॉकडाउन खत्म होने के बाद इस साल की दूसरी योजना से अर्थव्यवस्था में सुधार के लक्षण दिखने लगेंगे। अगर महामारी पर काबू पा लिया गया तो ब्रिटिश अर्थव्यवस्था में तेजी से सुधार होगा। उधर, बैंक की मौद्रिक नीति समिति ने बृहस्पतिवार को अपनी मुख्य ब्याज दर को 0.1 प्रतिशत के स्तर पर अपरिवर्तित बनाए रखने का फैसला किया। यह बैंक की न्यूनतम ब्याज दर है।

सार

नए पूर्वानुमान में यूरोपीय आयोग ने 7.4 प्रतिशत आर्थिक गिरावट की आशंका जताई है

विस्तार

यूरोप के लिए अच्छी खबर है कि यहां कोरोना महामारी का प्रभाव कम होने लगा है लेकिन बुरी खबर यह है कि यूरोपीय आयोग के नए पूर्वानुमान में 7.4 प्रतिशत का आर्थिक पतन बताया गया है। उधर, लॉकडाउन खुलने से वायरस के लहर चलने की आशंका भी है। जबकि यदि ब्रिटेन, इटली, स्पेन, फ्रांस में संक्रमण के मृतकों का आंकड़ा जोड़ दें तो यूरोपीय संघ में मरने वाले अमेरिका से ज्यादा हो चुके हैं।

इटली और जर्मनी में पिछले कुछ हफ्तों के मुकाबले मौतों की संख्या में कमी आई है। लेकिन अब तक अमेरिका के मुकाबले यूरोपीय संघ (ईयू) में मृतक आंकड़ा काफी ऊपर जा चुका है। जबकि ईयू के सामने दूसरी भीषण चुनौती आर्थिक मंदी की है। यूरोपीय आयोग द्वारा जारी ताजा अनुमान के मुताबिक, यूरोप की अर्थव्यवस्था इस साल 7.4 प्रतिशत तक सिकुड़ जाएगी।

एक शीर्ष अधिकारी ने यूरोपीय संघ के निवासियों से कहा, पहली बार द्वितीय विश्व युद्ध के बाद अपने इतिहास में सबसे गहरी आर्थिक मंदी की आशंका के लिए वे कमर कस लें। उधर, ब्रिटेन में अब तक संक्रमण से 29,427 मौतें हुई हैं जबकि इटली में 29,315, स्पेन में 25,857, फ्रांस में 25,531 लोग मारे गए हैं। अकेले इस संख्या को मिलाने मात्र से यह अमेरिका में कुल मौतों से आगे हो जाता है। जबकि ईयू के कई देशों में मौत का सिलसिला जारी है।


आगे पढ़ें

ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था में 300 साल की सबसे बड़ी गिरावट





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed